चार ब्रिटिश मुस्लिम डॉक्टर जिन्होंने कोरोना वायरस से लड़ते हुए अपनी जान गवाई !

,

   

ब्रिटेन के चार डाक्टरों ने  COVID-19 से ब्रिटिश लोगों की रक्षा करते हुए एक हफ्ते के अंतराल में अपनी जान गंवा दी। मृतक डॉक्टर जिन्होंने ‘अपनी जान गवाई उनकी पहचान सूडानी डॉ. अदिल एल तैयर के रूप में की गई, सूडान में ही जन्मे डॉ  डॉ.अमजद, पाकिस्तानी डॉक्टर हबीब जैदी, और डॉक्टर अल्फ़ा सूडान, जिन्होंने अंतिम सांस तक लोगों की सेवा की ।

डॉ. अदिल एल तैयर
64 वर्षीय डॉ आदिल कोरोनोवायरस से मरने वाले ब्रिटेन में पहले सर्जन थे। डॉ आदिल ने 25 मार्च को वेस्ट लंदन के इस्लेवर्थ में वेस्ट मिडलसेक्स यूनिवर्सिटी अस्पताल में अंतिम सांस ली। डॉ. अदिल एल तैयर की कोरोना से मौत हो गई। डॉ. अदिल ने पश्चिमी लंदन के वेस्ट मीडिलसेक्स यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल में बुधवार को आखिरी सांस ली। इनके चार बेटे हैं और दो बेटे एनएचएस में डॉक्टर हैं जो मरीजों का इलाज कर रहे हैं।

Dr-Adil-El-Tayar

डॉ. हबीब जैदी
76 वर्षीय डा. जैदी के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हो चुकी है। बीमार डा. जैदी को साउथएंड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां मंगलवार को गहन चिकित्सा केंद्र में उन्होंने आखिरी सांस ली। मृतक डाक्टर की बेटी डॉ. सारा ज़ैदी ने बताया कि उनमें Covid -19 के “‘टेक्स्ट बुक लक्षण” पाए गए थे। उन्होंने कहा कि अगर परीक्षणों में इसकी पुष्टि होती है तो डा. जैदी कोरोना वायरस से मरने वाले ब्रिटेन के पहले चिकित्सक होंगे।

Dr-Habib-Zaidi

 

डॉ.अमजद

डॉ अमजद  कोरोना संक्रमित पाए गए थे  जिसके बाद उनकी लीसेस्टर के ग्लेनफील्ड अस्पताल में निधन हो गया।

55 वर्षीय डॉक्टर अमजद कोरोना वायरस संकट के दौरान लगातार काम कर रहे थे और मरीजों का इलाज करते हुए कई मरीजों की जान भी बचाई । पिछले दो सप्ताह से वो असपताल में भर्ती थे। बीते शनिवार 28 मार्च उन्होंने अंतिम सांस ली ।

 

Amged-El-Hawrani-

डॉ. अल्फ़ा सादु
68 वर्षीय सेवानिवृत्त चिकित्सक अल्फ़ा सादू कोरोनो वायरस संक्रमण के बाद मरने वाले ब्रिटेन के चौथे डॉक्टर हैं।

यूनाइटेड किंगडम में रहने वाले सादू कोरोना संकट के दौरान मदद करने के लिए काम पर वापस आ गए थे, लेकिन एक महीने तक कोरोनोवायरस से लड़ने के बाद मंगलवार की सुबह, 31 मार्च को उनकी मृत्यु हो गई।

चार ब्रिटिश मुस्लिम डॉक्टर जिन्होंने कोरोना वायरस से लड़ते हुए अपनी जान गवाई ! 1
चार ब्रिटिश मुस्लिम डॉक्टर जिन्होंने कोरोना वायरस से लड़ते हुए अपनी जान गवाई ! 2

अपनी अंतिम सांस लेने से पहले तक उन्होंने ने राजकुमारी एलेक्जेंड्रा अस्पताल एनएचएस ट्रस्ट में काम किया और बीमारी के शिकार लोगों का इलाज किया था । पूर्व सीनेट अध्यक्ष, बुकोला सराकी ने फेसबुक पर सादु की मृत्यु की घोषणा की