तीन तलाक बिल को सेलेक्ट कमीटी को भेजने के विपक्ष की मांग का ‘मुस्लिम पर्सनल लॉ’ ने किया स्वागत

तीन तलाक बिल को सेलेक्ट कमीटी को भेजने के विपक्ष की मांग का ‘मुस्लिम पर्सनल लॉ’ ने किया स्वागत

नई दिल्ली: अखिल भारतीय मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने उन सभी राजनीतिक पार्टियों का धन्यवाद किया है। जिन्होंने राज्यसभा में तीन तलाक विरोधी बिल के खिलाफ असंतोष व्यक्त किया था, और बिल की खामियों को दूर करने के लिए इसे सेलेक्ट कमीटी को भेजने की मांग की थी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

बोर्ड के मौलाना फजलुर रहीम ने कहा कि यह सुचना देते हुए बताया कि बिला का मौजूदा शक्ल की बुनियाद पर कानून बनता है तो इससे मुस्लिम महिलाओं की समस्यायें अधिक बढ़ जाएँगी। और भारतीय संविधान के साथ साथ सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का उल्लंघन भी होगा।

गौरतलब है कि यह विधेयक पिछले हफ्ते लोकसभा में आसानी से पास हो चूका है। और कांग्रेस ने वहां इसका समर्थन किया था। विपक्ष पार्टियों के साथ सभी मुसलमान परुष महिला, मुस्लिम संगठनें और भारत की सेकुलर जनता इस बिल के खिलाफ है और यह कहा जा रहा है कि यह मुस्लिम पर्सनल ला में दखलंदाजी भी है और मुस्लिम फैमिली को तबाह करने की भी एक गहरी साजिश है।

Top Stories