Monday , September 24 2018

मुस्लिम महिलाओं को भी विज्ञान शिक्षा में आगे आने की ज़रूरत: नजमा हेपतुल्ला

नई दिल्ली: महिलाओं को विज्ञान और सामाजिक शिक्षा के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए चार दिवसीय वर्कशाप का आयोजन अमेरिका की ओहियो स्टेट यूनिवसिर्टी की ओर से जामिया मिल्लिया इस्लामिया के सीआईटी कांफ्रेस हाल में किया गया है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इस वर्कशाप में जम्मू व कश्मीर की लगभग 25 छात्राओं ने शिरकत की थी। इस वर्कशाप का मकसद मुस्लिम महिलाओं को विज्ञान शिक्षा के प्रति खुद मुख़्तार बनाना और उस मैदान में उनकी सराहना करना है। वर्कशाप के उद्घाटन सभा को ख़िताब करते हुए मणिपुर की गवर्नर और जामिया मिल्लिया इस्लामिया के चांसलर नजमा हेपतुल्ला ने ख़ुशी का इज़हार करते हुए कहा कि शिक्षा हमारी जिंदगी की बुनियादी ज़रूरतों में से है, जिसमें विज्ञान को अहम मकाम हासिल है।

विज्ञान का मकसद गौर व फ़िक्र के अलावा इंसानी जिंदगी को आसानी प्राप्त करना है।उन्होंने कहा कि प्राक्रतिक सनसाधनों की सुरक्षा और उनके प्रति जागरूकता होने की सलाह देते हुए कहा कि विज्ञान को हमें शांति व सुकून का प्रतीक बनाने की कोशिश करनी चाहिए।

TOPPOPULARRECENT