Friday , December 15 2017

मलेशिया के उप मंत्री डॉ. अशरफ वाजिदी ने कहा मुसलमान हलाल कमाने के बजाये हलाल खाने पर ज्यादा ध्यान देते हैं

मलेशियाई उप मंत्री और इस्लामी मामलों के प्रभारी डॉ. अशरफ वाजिदी ने मुसलमानों को झकझोर कर रख देने वाला बयान दिया है। उन्होंने कहा कि आज का मुसलमान हलाल कमाने के बजाय हलाल खाने पर ज्यादा ध्यान देते हैं। बता दें कि डॉ. अशरफ वाजिदी मलेशिया सरकार के इस्लामी मामलों के भी मंत्री हैं।

उन्होंने कहा कि अवाम इस्लाम को महज पूजा पाठ समझती है, जहां तक मामला हराम और हलाल का है इस्लाम किन चीजों से रोकता है और किन चीजों की इजाजत देता है वह सिर्फ खाने पीने तक ही सीमित नहीं हैं।

न्यूज एजेंसी माले मेल के मुताबिक अशरफ वाजिदी ने यह बात सदकात के विषय पर आयोजित एक सेमिनार को संबोधित करते हुए कहीं।

उन्होंने कहा कि जब गोश्त खाने की बात आती है तो मुसलमान यह ख्याल रखते हैं इसे शरीयत के कानून के मुताबिक जिब्ह किया गया है या नहीं, लेकिन खर्च करने वाली रकम के बार में नहीं सोचती कि यह हलाल कमाई द्वारा कमाई  गई है या नहीं। उन्होंने कहा कि मुसलमानों को समझना होगा कि हराम कमाई खाने के खतरनाक परिणाम भुगतने पड़ते हैं।

डॉ. वाजिदी ने कहा कि हराम कमाने वाले की दुआ नहीं सुनी जाती,

मलेशियाई उप मंत्री ने हलाल शराब के बारे में कहा कि यह मलेशियाई हलाल सर्टिफिके के खिलाफ है

 

TOPPOPULARRECENT