मुसलमानों पर पीएम मोदी के भाषणों के बाद जानिए अल्पसंख्यकों की राय!

मुसलमानों पर पीएम मोदी के भाषणों के बाद जानिए अल्पसंख्यकों की राय!

नरेंद्र मोदी 30 मई को लगातार दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण करेंगे। चुनाव जीतने के बाद अपने पहले भाषण में उन्होंने ‘सबका साथ, सबका विकास’ के अपने नारे में इजाफा करते हुए उसमें ‘सबका विश्वास’ जोड़ा था।

प्रधानमंत्री ने अपने भाषणों में लगातार अल्पसंख्यक वर्ग का विश्वास जीतने की बात कही है और लगता है कि उनकी बातों का अल्पसंख्यकों पर असर भी हुआ है। अहमदाबाद के खानपुर इलाके में चाय की दुकान लगाने वाले इम्तियाजभाई को भी उम्मीद है कि मोदी मुसलमानों की जिंदगी बदलने का काम करेंगे।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, इम्तियाज की चाय की दुकान अहमदाबाद के खानपुर इलाके में स्थित गुजरात बीजेपी के पुराने मुख्यालय के पास है। यही वह जगह है, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजनीति में कदम रखे थे।

इम्तियाजभाई ने रविवार को कहा कि उन्हें पूरी उम्मीद है कि मोदी मुस्लिमों की जिंदगी बदल देंगे। उन्होंने याद किया कि मोदी जब यहां रहा करते थे, उनकी दुकान से चाय और स्नैक्स लिया करते थे।

दुकान में बैठे दूसरे मुस्लिम शख्स ने याद किया कि मोदी उनकी टीवी की दुकान से वीडियो कैसेट रिकॉर्डर (VCR) ले जाया करते थे और वीडियो कैसेट पत्रकारों को दिखाते थे।

यह पूछे जाने पर कि BJP सरकार से उनकी क्या अपेक्षाएं हैं, इम्तियाजभाई ने कहा, ‘मैं कल मोदी साहेब का भाषण सुनकर बहुत खुश हुआ। वह अकलियतों की भलाई के बारे में बोल रहे थे। मुझे बहुत यकीन है कि मोदी मुस्लिमों की जिंदगी बदल देंगे, न सिर्फ गुजरात में, बल्कि समूचे देश में भी।

हमें उम्मीद व यकीन है कि वह मुस्लिमों की तालीम व सेहती हालात को दुरुस्त करने के लिए काम करेंगे। वह BJP के दफ्तर में चाय और स्नैक्स मंगाया करते थे और मेरी दुकान पर भी आकर बैठते थे।’ वह मोदी और BJP अध्यक्ष अमित शाह के खानपुर कार्यालय में आने और यहां के जेपी चौक पर धन्यवाद ज्ञापन संबोधन करने से उत्साहित दिखे।

Top Stories