Sunday , July 22 2018

होली पर मुजफ्फरनगर के SSP ने मुस्लिमों को लिखा ख़त, कहा -आप उस रसूल-ए-पाक के उम्मत हैं….

होली का त्यौहार  इस साल शुक्रवार को मनाया जाएगा. जुमे के दिन होली  होने की वजह दंगे के लिए संवेदनशील जिलों में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस और जिला प्रशासन ने कमर कस ली है. इसी क्रम में मुजफ्फरनगर के एसएसपी अनंत देव ने मुस्लिमों से शांति की अपील करते हुए एक पत्र लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है कि वे पैगम्बर मुहम्मद साहब के दिखाए रास्तों का अनुसरण करें. न्यूज़ 18 के मुताबिक एसएसपी अनंत देव ने होली से पहले शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए एक पत्र बंटवाया है जिसमें उन्होंने अपील की है, “ भाईयों मैं आप सभी से अपील करता हूं कि पैगम्बर मुहम्मद साहब के दिखाए रास्ते पर चलें और उसका अनुसरण करें. आग से आग को बुझाने की कोशिश न करें. आप को पता है आग पानी से बुझाया जाता है. कोई भी कदम उठाने से पहले एक बार जरुर सोचें.”

इस पत्र में एक कहानी का भी जिक्र है जिसमें एक यहूदी महिला पैगम्बर पर कूड़ा फेंका करती थी. “दोस्तों, आप उस रसूल-ए-पाक के उम्मत के फर्द (सदस्य) हैं, जिसके रसूल-ए-पाक जिस रास्ते से गुजरते थे, उस रास्ते पर रहने वाली एक बूढ़ी महिला रसूल पर गंदगी डाल देती थी. रसूल उसे झाड़कर निकल जाते थे. यह सिलसिला रोज का था. एक दिन उस महिला ने रसूल पर गंदगी नहीं फेंकी तो रसूल वहीं रुक गए और उस महिला के बारे जानकारी हासिल की. पता चला कि वह बीमार है. रसूल उस महिला के घर गए और उसका हालचाल पूछा. महिला ने देखा कि यह वही शख्स है जिस पर वह गंदगी फेंकती थी. उसे लगा कि मुहम्मद साहब बदला लेने आए हैं. लेकिन जब पैगम्बर साहब ने उसके इलाज की बात की तो महिला के आंखों में आंसू आ गए. महिला यहूदी थी, वह मुहम्मद साहब इस व्यवहार को देखकर रो पड़ी और उनके पैरों पर सिर रख दिया.”

 

इनपुट्स न्यूज़ 18

TOPPOPULARRECENT