रोती बिलकती मांओं को देखकर मेरा दिल टूट जाता है: मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती

रोती बिलकती मांओं को देखकर मेरा दिल टूट जाता है: मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती
Click for full image

श्रीनगर: जम्मू व कश्मीर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने दक्षिण कश्मीर के दो जिलों शोपयान और अनंतनाग में एक दिन में 20 हत्याओं के संदर्भ में कहा है कि हम सबको राजनीतिक मतभेद एक ओर छोड़कर नये तरीकों पर गौर करके नौजवान तक पहुंचने और समाधान तलाश करने के लिए काम करना चाहिए, ताकि रक्तपात का सिलसिला समाप्त हुआ और नौजवान नसल को नष्ट होने बचाया जा सके।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कश्मीरी नौजवानों के आतंकवादियों के लाइनों में शामिल होने के रुझान पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि हर दिन मेरा दिल टूट जाता है जब मैं बेटे को वापस लौटने की इज़हार माइक्रो ब्लोगिंग वेबसाइट पर अपने दो लगातार ट्विटस में किया। वह ज़ाहिरी तौर पर नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्लाह के आरोपों व आलोचनाओं पर अपनी प्रतिक्रिया दे रही थीं।

उन्होंने कहा कि रविवार से पेश आए हिंसा के घटनायें उस सच्चाई की गंभीर याददाश्त है कि इस तरह के मौकों पर हम सबको राजनीतिक मतभेद एक ओर छोड़कर नये तरीकों पर गौर करके नौजवानों तक पहुंचने और समाधान तलाश करने के लिए काम करना है, ताकि रक्तपात का सिलसिला समाप्त हो और नौजवान नस्ल को नष्ट होने से बचाया जा सके।

Top Stories