Friday , November 24 2017
Home / Islami Duniya / म्यांमार रोहिंग्या मुसलमानों को हिंसा से बचाने में नाकाम रहा: संयुक्त राष्ट्र

म्यांमार रोहिंग्या मुसलमानों को हिंसा से बचाने में नाकाम रहा: संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र के दो विशेष सलाहकारों ने कहा है कि म्यानमार की सरकार राखेन राज्य में रोहिंग्या मुस्लिम अल्पसंख्यक को उसके खिलाफ अत्याचार से बचाने में और इस हवाले से खुद पर अंतरराष्ट्रीय दायित्वों को पूरा करने में नाकाम रही है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार संयुक्त राष्ट्र के इन दोनों सलाहकारों ने अपने संयुक्त ब्यान में कहा है कि संयुक्त राष्ट्र को इन दोनों और अन्य हस्तियों ने म्यांमार की सरकार को कई बार यह चेतावनी दी थी कि वह रोहिंग्या मुसलमानों के हवाले से अपनी जिम्मेदारियां पूरी करने में नाकाम होती जा रही थी।

संयुक्त राष्ट्र के उन दो सलाहकारों में से एक आडामा डींग हैं, जो नरसंहार को रोकने के लिए इस विश्व संस्था के विशेष सलाहकार हैं, जबकि दूसरे एवान सीमेनवोच हैं, जो सुरक्षा से संबंधित जिम्मेदारियों के हवाले से संयुक्त राष्ट्र के विशेष सलाहकार हैं।

इन दोनों दिग्गज हस्तियों ने अपने संयुक्त बयान में कहा कि म्यांमार सरकार को चेतावनी दी गई थी कि इस दक्षिण पूर्व एशियाई देश में रोहिंग्या मुस्लिम आबादी को अत्याचारों से बचाने के लिए अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत जो बड़ी ज़िम्मेदारी आयद होती हैं, वे पूरा नहीं किया जा रहा था।

TOPPOPULARRECENT