म्यांमार रोहिंग्या को मुसलमान होने की सजा दे रहा है

म्यांमार रोहिंग्या को मुसलमान होने की सजा दे रहा है

न्यूयार्क। संयुक्त राष्ट्र महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा है कि म्यांमार द्वारा रोहिंग्या को मुसलमान होने की सजा दी जा रही है। उन्होंने एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि म्यांमार रोहिंग्या मुसलमानों की महिलाओं को स्थानीय अधिकारीयों की मिलीभगत से प्रताड़ित किया जा रहा है। उनकी इज़्ज़त लूटी जा रही है और उन पर हमले किये जा रहे हैं। उन्हें तरह-तरह से सताया जा रहा है।

मानवाधिकार क्षेत्र में काम करने वाली एक संस्था ने पिछले साल नवंबर में कहा कि रोहिंग्या मुसलमानों पर एक तयशुदा तरीके से हमला किया गया जो रोहिंग्या समुदाय को म्यांमार से खदेड़ने के लिए रची गई साजिश थी। म्यांमार से पलायन कर रहे रोहिंग्या मुसलमानों की स्थिति चिंताजनक है। उनके मुताबिक, ‘जो खबरें आ रही हैं और जिन तस्वीरों को हम देख पा रहे हैं, वे दिल तोड़ने वाली हैं।

म्यांमार की सेना पर न केवल रोहिंग्या मुसलमानों के गांवों को जलाने, बल्कि उन्हें पलायन के लिए मजबूर करने के आरोप लगे हैं बल्कि म्यांमार 1948 में आजाद होने के बाद से रोहिंग्या मुसलमानों को अपना नागरिक मानने से इनकार करता आ रहा है।

Top Stories