नजीब मामला: CBI की 6 सदस्य टीम ने जेएनयू पहुंचकर दोबारा जाँच की

नजीब मामला: CBI की 6 सदस्य टीम ने जेएनयू पहुंचकर दोबारा जाँच की

नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी के छात्र नजीब अहमद को लापता हुए 18 महीने गुजर चुके हैं। अब तक कोई भी जाँच एजेंसी उसे नहीं ढूंढ पाई है, पहले 9 महीने तक दक्षिण जिला पुलिस और बाद में क्राइम ब्रांच देश भर में उसे दूँढने के लिए ख़ाक छानती रही, कामियाबी न मिलने पर 9 महीने पहले नजीब मामला को सीबीआई के हवाले कर दिया गया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सीबीआई भी अबतक नजीब को नहीं ढूंढ पाई है। सोमवार को सीबीआई की 6 सदस्य टीम ने जेएनयू पहुंचकर 16 ब्वाईज होस्टलों में जाकर घटना के बीच के पुराने रजिस्टर जब्त किए। सीबीआई की टीम सुबह साढ़े दस बजे जेएनयु पहुंच गई थी। टीम ने 7 घंटे तक सभी ब्वाईज होस्टल में जाकर छात्रों और वार्डन से पूछताछ की, रजिस्टर से सीबीआई यह पता लगाना चाह रहिओ है कि 14 अक्टूबर और 16 अक्टूबर से पहले और बाद में छात्रों के किस किस होस्टल में कौन कौन छात्र कब कब बाहर निकले थे और कब वापस लौटे।

बाहरी छात्र किस किस से मिलने आये थे, रजिस्टर में दर्ज नाम, एड्रेस और मोबाइल नंबर से छात्रों के बारे में सीबीआई पता लगाए गी। दरअसल इस मामले में दिल्ली पुलिस खुद भी हर संभव पहलुओं पर दिल्ली-एनसीआर सहित कई राज्यों में जाँच कर चुकी थी, देश की सभी बड़ी दरगाहों मस्जिदों में दिल्ली पुलिस महीनों तक सादा कपड़े में जाकर इन्क्वायरी करती रही, लेकिन कुछ हाथ न लगा।

Top Stories