Monday , July 16 2018

नांदेड़ : तीन तलाक़ बिल के विरोध में मुस्लिम महिलाओं ने प्रदर्शन किया

नांदेड। तीन तलाक बिल के विरोध में महाराष्ट्र के नांदेड की सड़कों पर हजारो महिलाएं उतर आईं। तीन तलाक बिल की वजह से मुस्लिम महिलाओं का भला नहीं दोहरा शोषण होगा। किसी भी सूरत में यह कानून मंज़ूर नही। मोदी सरकार द्वारा लाये गए मुस्लिम वीमेन (प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स ऑन मैरेज) बिल 2017 के खिलाफ देश के अलग-अलग शहरो में विरोध प्रदर्शन और ज्ञापन दिए जा रहे है।

कुल जमाती तंज़ीम संगठन और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के बैनर तले नांदेड में सड़कों पर उतरकर हजारो मुस्लिम महिलाओ ने जुलूस निकाला और प्रदर्शन किया।
केंद्र सरकार ने 28 दिसंबर 2017 को लोकसभा में मुस्लिम विमेन बिल 2017 पास कर दिया है जिसका पूरे देश में महिलाओं ने विरोध किया है।

तीन तलाक कानून को वापस लेने की मांग को लेकर मालेगांव (महाराष्ट्र), जयपुर (राजस्थान), भोपाल (म.प्र), नलगौंडा (तेलंगाना), थाना (महाराष्ट्र), कोलकाता (पश्चिम बंगाल), भुलेपुर (उ.प्र), झुंझुनू (राजस्थान), पटना (बिहार), सिमडेगा (झारखंड) पुणे (महाराष्ट्र) में बड़े पैमाने पर विरोध हुआ है।

बिल के प्रावधान में एक बार में तीन तलाक देने पर पति को 3 साल की जेल हो सकती है लेकिन इन हालात में अगर किसी आदमी को जेल होती है तो उसकी पत्नी और बच्चों को भत्ता कैसे दिया जाएगा, इस पर सरकार ने कोई स्पष्टीकरण नही दिया।

यह बिल राज्यसभा में भेजा गया तो विपक्ष ने भी इसे पास नहीं होने दिया। विपक्ष ने इस बिल में कई खामियां बताईं। मुस्लिम पर्सनल ला बोर्ड, मुस्लिम संगठनों और मुस्लिम महिला संगठनों के सलाह मशवरे के बिना इसे जल्दबाज़ी में पास कर दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT