देश बेरोज़गारों की रजिस्टर चाहता है, NRC की नहीं- प्रकाश राज

देश बेरोज़गारों की रजिस्टर चाहता है, NRC की नहीं- प्रकाश राज

बेरोजगार लोगों की संख्या का एक रजिस्टर, शिक्षा से वंचित बच्चों को वर्तमान समय की जरूरत है, प्रसिद्ध फिल्म अभिनेता, निर्देशक और सामाजिक कार्यकर्ता प्रकाश राज कहते हैं।

 

 

इंदिरा पार्क में एंटी-सीएए-एनआरसी-एनपीआर के दौरान आज उनके साथ शामिल होने के लिए सियासत उर्दू के संपादक आमिर अली खान, प्रोफेसर पीएल विश्वेश्वर राव और अन्य सामाजिक कार्यकर्ता थे।

 

इस बैठक में यंग इंडिया नेशनल डिक्लेरेशन कमेटी ने घोषणा की कि 20 जनवरी को 20 जगहों पर विरोध सभाएं आयोजित की जाएंगी।

 

इस समूह के हैदराबाद चैप्टर के आयोजकों ने उल्लेख किया कि विरोध का उद्देश्य लोकतंत्र और भारतीय संविधान की रक्षा करना है।

 

न्यूज़ स्टेट पर छपी खबर के अनुसार, प्रकाश राज ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया है।

 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (सोमवार) को ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम में शिरकत की और बच्चों का तनाव दूर करने की कोशिश की. इसी कार्यक्रम को लेकर प्रकाश राज ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘परीक्षा पे चर्चा करने से पहले डिग्री के कागज दिखाओ #justasking.’

 

 

प्रकाश राज के इस ट्वीट पर अब सोशल मीडिया पर खूब रिएक्शन आ रहे हैं। इससे पहले बॉलीवुड के बेबाक डायरेक्टर अनुराग कश्यप ने भी पीएम को लेकर ट्वीट किया।

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘बिल्कुल, कभी भी दबाव न बनाएं और उन पर किसी चीज का बोझ भी न डालें।

@narendramodi जो आप कह रहे हैं पहले अपनी सरकार और पुलिस से उस पर अमल करने के लिए कहें। उदाहरण द्वारा इसका नेतृत्व करें, बातों से नहीं। धन्यवाद।’

बता दें कि ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम में हजारों की तादाद में इकट्ठा हुए छात्रों, शिक्षको और अभिभावकों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने सफलता के कई सफल मंत्र दिए.

जल्द ही कक्षा दसवीं और बाहरवीं के बोर्ड की परीक्षा शुरू होने वाली है, इसको लेकर पीएम मोदी ने छात्रों को तनावमुक्त होकर परीक्षा में बैठने की सलाह दी।

कार्यक्रम पीएम मोदी ने कहा, मैं किसी परिजन पर कोई दवाब नहीं डालना चाहता, और न किसी बच्चे को बिगाड़ना चाहता हूंं।

पीएम मोदी ने आगे कहा कि जैसे स्टील के स्प्रिंग को ज्यादा खींचने पर वो तार बन जाता है, उसी तरह मां-बाप, अध्यापकों को भी सोचना चाहिए कि बच्चे कि क्षमता कितनी है।

Top Stories