Friday , December 15 2017

फ़तवा जारी करने वालें पहले हमारा काम देखें- PM मोदी 

राष्ट्रवाद के खिलाफ बोलने वालों परj मोदी ने जवाबी हमला बोला। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह राष्ट्रवाद ही था, जिसने विदेश में फंसे भारतीयों को सुरक्षित वापस लाने में मदद की। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले गांधीनगर के आर्चबिशप थॉमस मैकवान ने पत्र लिखकर ईसाई समुदाय के लोगों से देश को ‘राष्ट्रवादी ताकतों’ से बचाने का अनुरोध किया था। पीएम मोदी के इस बयान को जवाब के तौर पर देखा जा रहा है।

उन्होंने कहा कि यह राष्ट्र भक्ति है जो सभी बाधाओं से परे है और यह भारत और दुनिया के हर हिस्से में हर भारतीय को सहायता करने के लिए हमें मार्गदर्शन प्रदान करता है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि क्या आपने देखा है कि सुषमा स्वराज जी कितनी सक्रिय रहती हैं? मानवीय मूल्यों को मान कर वो जरूरत के वक्त में इतने सारे लोगों की सेवा कर रही हैं, वो दुनिया के किसी भी भाग में हो सकते हैं, लेकिन वो उनकी मदद करती हैं। मोदी ने कहा कि यह हमारा ‘राष्ट्रवाद’ है जिसने हमें फादर टॉम और फादर प्रेम को वापस लाने को प्रेरित किया। जब जूडिथ डिसूजा का अपहरण कर लिया गया था, हम एक बार फिर से भारत की इस बेटी को वापस लाने के लिए जो कुछ भी कर सके, हमने किया था। प्रधानमंत्री ने कहा कि जो लोग ‘राष्ट्रवादियों’ के खिलाफ फतवा जारी कर रहे हैं, उन्हें यह देखना चाहिए कि हमने फादर टॉम को वापस लाने के लिए प्रयास किए। फादर टॉम, भगवान मसीह के लिए अपने प्यार से मार्गदर्शन किया और काम कर रहे थे। हम फादर टॉम वापस को भी लाए। हम भी फादर प्रेम को वापस लाए, जिन्हें अफगानिस्तान में अपहरण कर लिया गया था

TOPPOPULARRECENT