मिस्र की मस्जिद में हमला, 3 दिनों के राष्ट्रीय शोक का ऐलान, सरकार ने बुलाई आपात बैठक

मिस्र की मस्जिद में हमला, 3 दिनों के राष्ट्रीय शोक का ऐलान, सरकार ने बुलाई आपात बैठक
Click for full image

काहेरा। मिस्र के अशांत उत्तरी सिनाई में एक मस्जिद के पास शुक्रवार को जुमे की नमाज के दौरान हुए बम धमाके से कम से कम 235 लोगों की मौत हो गई और करीब 145 लोग घायल हो गये।

मिस्र के स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता खालिद मुजाहिद ने इस घटना को ‘आतंकी हमला’ करार दिया। एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ऐसा लगता है कि जिन लोगों को निशाना बनाया गया है वे सुरक्षा बलों के समर्थक हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि इस मस्जिद में सूफी विचार को मानने वाले लोग इस मस्जिद में आते थे।

घायलों को अस्पताल ले जाने के लिए करीब 50 एंबुलेंस को मौके पर भेजा गया। अब तक किसी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। मिस्र की सरकार ने 3 दिनों के राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है।

राष्ट्रपति अब्दुल फतह अल सीसी इस घटना पर चर्चा के लिए अधिकारियों के साथ आपात बैठक करेंगे। मिस्र के उत्तरी सिनाई में जनवरी, 2011 की क्रांति के बाद से ही कई हिंसक हमले हुए हैं। जनवरी, 2011 में हुई क्रांति से राष्ट्रपति हुस्नी मुबारक की सत्ता चली गई थी।

Top Stories