Thursday , April 26 2018

न्यूजीलैंड की पॉप गायिका ‘लॉर्डे’ ने फलस्‍तीनीयों के समर्थन में इजरायल में अपने कंसर्ट को किया रद्द

न्यूजीलैंड की गायिका लॉर्डे ने इस्राएल में अपना कंसर्ट रद्द किया. लोगों ने इस्राएल के विरोध में लॉर्डे को बड़ी संख्या में संदेश भेजे, जिनका असर हुआ.

21 साल की गीतकार और गायिका लॉर्डे का कंसर्ट तेल अवीव में जून में होना था. लेकिन कंसर्ट से पहले ही लॉर्डे के पास हजारों खत और संदेश पहुंचे. फलस्तीनियों के प्रति इस्राएल के बुरे व्यवहार का हवाला देते हुए लोगों ने लॉर्डे से कंसर्ट रद्द करने की अपील की.

गायिका के मुताबिक, “बहुत ही ज्यादा संख्या में संदेश और खत” आने के बाद उन्होंने शो रद्द करने का फैसला किया है.

लॉर्डे ने इस्राएल में कंसर्ट का आयोजन करने वालों को भी एक बयान के जरिए सूचना दे दी है. इस्राएली अखबार येरुशलम पोस्ट की पत्रकार एमी स्पिरो ने ट्वीटर पर इसकी जानकारी दी.

इससे पहले यहूदी और फलस्तीनी मूल की दो महिलाओं ने भी तेल अवीव में अपना शो रद्द कर दिया. उन दोनों ने कहा कि अभी तेल अवीव में शो करने से ऐसा लगेगा जैसे हम फलस्तीन के प्रति इस्राएल की दमन की नीति को समर्थन दे रहे हैं.

हाल ही में अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने येरुशलम को इस्राएल की राजधानी के रूप में मान्यता देकर नया विवाद खड़ा कर दिया है. ट्रंप ने अमेरिका के दूतावास को तेल अवीव से येरुशलम ले जाने का फैसला किया.

ट्रंप के फैसले का दुनिया भर के देशों ने विरोध किया. संयुक्त राष्ट्र आम सभा में अमेरिकी फैसले को लेकर वोटिंग भी हुई. वोटिंग में अमेरिका के कई करीबी मित्र देशों ने ट्रंप के फैसले के खिलाफ वोट दिया.

यूएन में हुए वोट के बाद अमेरिकी सहायता पर निर्भर रहने वाले देश ग्वाटेमाला ने भी अपने दूतावास को येरुशलम ले जाने का एलान किया है.

सौजन्य- dw hindi

TOPPOPULARRECENT