Monday , November 20 2017
Home / India / मीडिया पर हमला नागरिक अधिकारों के लिए खतरा : हामिद अंसारी

मीडिया पर हमला नागरिक अधिकारों के लिए खतरा : हामिद अंसारी

बेंगलूरू। उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने कहा कि एक खुले समाज के लिए स्वतंत्र मीडिया जरूरी है। उन्होंने कहा कि स्वतंत्र प्रेस पर कोई भी हमला नागरिकों के अधिकारों खतरे में डाल सकता है।

 

 

 

बेंगलूरू में नेशनल हेराल्ड अखबार के लांच करने के मौके पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने यह बात कही।

 

 

 

देश में प्रेस की भूमिका तथा आजादी पर छिड़ी बहस के बीच उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने कहा कि आज के ‘पोस्ट ट्रुथ’ और ‘अल्टर्नेटिव फैक्ट्स’ के दौर में केवल एक स्वतंत्र तथा जिम्मेदार मीडिया सत्ता को जवाबदेह बना सकता है।

 

 

 

उन्होंने कहा कि जब मीडिया को किसी ‘अन्यायपूर्ण प्रतिबंध’ और ‘किसी हमले की धमकी’ का सामना करना पड़ता है तो मीडिया में आत्मनियंत्रण की स्थिति और भी खराब हो सकती है।

 

 

 

अंसारी ने कहा कि एक संवैधानिक व्यवस्था के तहत ही मीडिया में सीमित हस्तेक्षेप किया जा सकता है, लेकिन वह भी देश के लोगों के हित में होना चाहिए। उन्होंने कहा संविधान की आड़ लेकर सूचनाओं के स्वतंत्र बहाव को नहीं रोका जा सकता है। नागरिकों के अधिकारों की हिफाजत के लिए यह जरूरी है।

TOPPOPULARRECENT