Wednesday , November 22 2017
Home / Khaas Khabar / शादी में फोटों खिंचवाना पड़ा महँगा, दैनिक जागरण ने नसरीन को आतंकी बताकर छापी फ़र्ज़ी ख़बर

शादी में फोटों खिंचवाना पड़ा महँगा, दैनिक जागरण ने नसरीन को आतंकी बताकर छापी फ़र्ज़ी ख़बर

Picture- TCN

बिजनौर। भारत के प्रतिष्ठित अखबार दैनिक जागरण की ग़लत रिपोर्टिंग का मामला सामने आया है। जिसमें अखबार ने बिजनौर की रहने वाली एक बेकसूर मुस्लिम युवती को सिमी आतंकी बताया है। 

न्यूज़ पोर्टल ‘टू सर्किल्स डॉट नेट’ के मुताबिक, जागरण ने एक वायरल फोटो के आधार पर युवती को सिमी आतंकी का साथी करार देते हुए लिखा, चार साल पहले बिजनौर के जाटान मुहल्ले में धमाके के बाद जो 6 आतंकी भाग निकले थे, उनमें से एक आतंकी के साथ काजीपुरा की एक युवती की तस्वीर एजेंसियों को मिली है। तस्वीर में मौजूद सिमी आतंकी पिस्टल लिए है जबकि युवती अत्याधुनिक एके-47 लिए है।’

 

जागरण ने लिखा कि तस्वीर में बंदूक लिए बैठी युवती स्लीपिंग माड्यूल है और आतंकियों के लिए फंड व वाहन की व्यवस्था करती है। सुरक्षा का हवाला देते हुए अखबार ने लिखा कि एजेंसियों की मानें तो युवती के पकड़े जाने पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आतंकियों और स्लीपिंग माड्यूल्स की कमर टूट जाएगी।

 इस खबर की पोल तब खुली जब युवती अपनी उसी फोटो के साथ थाने पहुंच गई और सारा मामला पुलिस को बता दिया। बता दें कि युवती का नाम हसीना नहीं, बल्कि नसरीन है, जो स्योहारा के क़स्बा सहसपुर की रहने वाली है।

नसरीन की शिकायत पर बिजनौर पुलिस अधीक्षक ने एक जांच टीम का गठन किया। इसी दिन स्योहारा थाना अध्यक्ष धर्मपाल सिंह इसकी जांच की और रिपोर्ट पुलिस कप्तान को सौंप दी। इसके बाद पुलिस कप्तान इसे तमाम मीडिया संस्थानों को भेज देते हैं। 

रिपोर्ट में जांच अधिकारी मामले से पर्दा उठाते हुए लिखते हैं, नसरीन स्योहारा में अक्लीमा की शादी में आई थी। यहां कश्मीर का एक युवक जो समाजसेवी शादुल्लाह का सुरक्षा गार्ड है, जिसकी लाइसेंसशुदा एसबीबीएल बंदूक के साथ कुछ लोग फोटो खिंचा रहे थे। नसरीन ने भी अपना फोटो खिंचवा लिया। ये कश्मीरी युवक एक वैध सेक्युरिटी एजेंसी के साथ काम करता है। 

TOPPOPULARRECENT