Tuesday , July 17 2018

इस्लाम कबूल करने पर पति-पत्नी को मिल रही धमकियां, सरकार से की सुरक्षा देने की मांग

PC: Representational Image

यूपी के सिद्धार्थ नगर जिले में इस्लाम अपनाने वाले दलित दंपति ने धर्म परिवर्तन के दो महीने बाद सरकार से सुरक्षा की मांग की है। उन्होंने सरकार को कहा है कि उन्हें कुछ ‘असामाजिक तत्वों’ और ‘सांप्रदायिक पार्टियों’ द्वारा उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है।

2 महीने पहले धर्म परिवर्तन के बाद रामधानी ने अपना नाम अब्दुल रहमान और उनकी पत्नी गुड़िया ने अपना नाम आयशा रख लिया था।
करीब एक महीने पहले रहमान, आएशा और अपनी 10 साल की बच्ची सहित मुस्लिम बहुल पिपरावा में जाकर बस गए। उनका कहना है कि उनके धर्म के ठेकेदारों द्वारा धमकियां दी जा रही हैं।

रहमान की शिकायत पर सिद्धार्थ नगर जिला मजिस्ट्रेट कुणाल सैकु ने पुलिस को जांच के आदेश दिए हैं और इसके साथ रहमान और उनके परिवार को सुरक्षा देने की बात कही है।

हालांकि रहमान ने अपनी शिकायत में उन्हें धमकी देने वाले किसी शख्स या संस्था का नाम की कोई जानकारी नहीं दी है।

आपको बता दें कि 26 अगस्त को रहमान ने डीएम, मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, राज्य मानवाधिकार आयोग, गोरखपुर जोन के आईजी, बस्ती रेंज के डीआईजी और सिद्धार्थ नगर के एसपी को लिखित में शिकायत दी थी।

जिसमें उन्होंने लिखा था कि उन्होंने और पत्नी ने इस्लाम धर्म अपना लिया है। लेकिन उन्होंने इस्लाम किसी दबाबद में नहीं बल्कि उससे प्रभावित होकर अपनाया है।

असामाजिक तत्व और सांप्रदायिक पार्टियां इस्लाम धर्म अपनाने के बाद से ही धमकी दे रही हैं। जिसके चलते हम छिप कर रह रहे हैं।
इसलिए हम सुरक्षा की मांग करते हैं। अगर हमारे साथ कुछ होता है तो इसके जिम्मेदार असामाजिक तत्व और सांप्रदायिक पार्टियां होंगी।’

TOPPOPULARRECENT