Thursday , December 14 2017

विजय माल्या को भारत लाना मुश्किल- विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह

भुवनेश्वर: विजय माल्या को भारत लाने को लेकर केंद्र पर लगातार दबाव बन रहा है लेकिन इसी बीच मोदी सरकार के एक मंत्री ने बड़ा बयान दिया है। विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने विजय माल्या को ब्रिटेन से भारत लाने को लेकर कहा है कि सभी जरूरी कदम उठाए गए हैं, लेकिन कब तक भारत लाया जाएगा इसकी कोई निश्चित समय-सीमा नहीं दी जा सकती है।

उन्होंने मंगलवार को कहा, “प्रत्यर्पण के उद्देश्य से दस्तावेज ब्रिटेन को भेजे गए हैं। वे दस्तावेजों का परीक्षण कर रहे हैं और हम प्रतीक्षा कर रहे हैं। जब ब्रिटेन हरी झंडी देगा, तभी माल्या को वापस भारत लाया जा सकता है।” हालांकि उन्होंने यह बात स्पष्ट किया कि माल्या का प्रत्यर्पण उतना सरल और आसान नहीं हैं, जितना लोग सोचते हैं।

जनरल वीके सिंह ने कहा कि जब कोई देश प्रत्यर्पण संधि पर हस्ताक्षर करता है तो कुछ शर्तें तय की जाती हैं। ब्रिटेन और उसके कानून का मानना है कि अगर कोई वैध पासपोर्ट के साथ उनके देश में घुसता है, जिसे बाद में रद्द कर दिया जाता है तो वे कार्रवाई नहीं करेंगे।

वहीं दूसरी तरफ लंदन के एक कोर्ट में अपने प्रत्यर्पण से जुड़े सुनवाई को दौरान माल्या ने कहा, “मैं अपने उपर लगाए गए सभी आरोपों को नकारता हूं।” इसके बाद वेस्टमिंस्टर कोर्ट के मुख्य मजिस्‍ट्रेट एम्मा लुइस अरबुथनाट ने माल्या को चार दिसंबर तक के लिए जमानत दे दी। अब इस मामले की सुनवाई छह जुलाई को होगी।

TOPPOPULARRECENT