Thursday , April 19 2018

शर्मनाक: योगी पुलिस ने गांव पर बोला धावा, घरों में तोड़फोड़ और लूटपाट, गर्भवती महिला की मौत

यूपी के औरेया में पुलिस का बेरहम चेहरा सामने आया है । खबर औरेया के दलेलनगर से है जहां सोमवार को जुआरियों के पथराव से दरोगा के घायल होने के बौखलाई पुलिस ने मंगलवार रात गांव में धावा बोल दिया । सैंकड़ों पुलिसकर्मियों ने आधीरात को गांव में हमला किया और घरों में तोड़फोड़ की, महिलाओं बच्चों के साथ मारपीट भी की ।

पुलिस ने एक-एक घर में छापामारी कर दो दर्जन से ज्यादा लोगों को धर दबोचा। बदले की कार्रवाई में पुलिसकर्मी इस क़दर अंधे हुए कि उन्होंने गर्भवती महिला को भी नहीं बख्शा । गांववालों ने आरोप लगाया कि पुलिस की पिटाई से शबाना नाम की महिला की मौत हुई है । हालांकि एसपी ने कहाकि महिला की मौत गर्भपात के बाद ज्यादा खून बहने से हुई है ।

ग्रामीणों की मानें तो महिला की मौत के बाद पुलिस एवं ग्रामीणों के बीच पंचायत हुई। गांववाले पहले तो पुलिस की पिटाई से मौत की बात पर अड़े रहे, लेकिन बाद में समझौता होने पर महिला के परिजनों ने पुलिस को गर्भपात होने की बात लिख कर दे दी। इसके बाद हिरासत में लिए गए 17 लोगों को पुलिस ने छोड़ दिया। कुछ अभी भी हिरासत में हैं। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक ने कुछ भी कहने से मना कर दिया।

हालांकि एसपी संजीव त्यागी का कहना है कि नामजद लोगों को पकड़ने के लिए पुलिस ने दबिश दी थी। सभी आपराधिक प्रवृत्ति के हैं। महिला का पहले ही गर्भपात हो गया था। अधिक रक्तस्त्राव से उसकी मौत हुई है। इस संबंध में उसके पति ने लिखकर भी दे दिया है। पुलिस की पिटाई से मौत होने का आरोप गलत है। एसडीएम अजीतमल के सामने भी महिला के परिजनों ने बयान दिए हैं।

पुलिसकर्मियों ने गांव के कई घरों में तोड़फोड़ भी की गई और जब पीड़ित रिपोर्ट दर्ज कराने गए तो उन्हें भगा दिया गया, लेकिन बाद में कोई भी इस मामले में खुलकर बोलने को तैयार नहीं है। गांव में फोर्स तैनात है। शाम को पुलिस ने कुछ लोगों को छोड़ भी दिया।

दलेल नगर में सोमवार को प्रतिबंधित जानवरों के आने की सूचना पर पहुंची पुलिस पर पथराव हुआ था । इसके बाद मंगलवार को जुआरियों को पकड़ने गई पुलिस पर भी ग्रामीणों ने पथराव कर दिया, जिसमें चौकी प्रभारी उमेश कुमार घायल हो गए।

इस मामले में पुलिस ने 26 नामजद व 200 अज्ञात के खिलाफ पुलिस पर हमला करने, सरकारी कार्य में बाधा डालने की रिपोर्ट दर्ज की और चौकी प्रभारी को अस्पताल में भर्ती कराने के बाद मंगलवार देर रात फोर्स दलेल नगर पहुंची।

ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस ने जमकर कहर बरपाया। कई घरों के दरवाजे तोड़ दिए और जमकर तोड़फोड़ की। महिलाओं और बच्चों तक को नहीं बख्शा और उनके साथ जमकर मारपीट की गई ।

 

 

TOPPOPULARRECENT