राजस्थान लव जिहाद मामले मे हाईकोर्ट का बड़ा फ़ैसला, पायल को अपने पति फैज के साथ रहने की इजाजत दी

राजस्थान लव जिहाद मामले मे हाईकोर्ट का बड़ा फ़ैसला, पायल को अपने पति फैज के साथ रहने की इजाजत दी
Click for full image

जयपुर। राजस्थान के कथित ‘लव जिहाद’ मामले में हाई कोर्ट ने 22 वर्षीय महिला को अपने पति के साथ रहने की इजाजत दे दी हैै। अंग्रेजी अखबार द हिंदू के अनुसार मंगलवार को महिला के भाई की हैबियस कार्पस (बंदी प्रत्यक्षीकरण) याचिका पर सुनवाई के दौरान आरिफा (पायल सिंघवी) को अदालत लाया गया।

जहां जबरन धर्म परिवर्तन और मुस्लिम युवक से शादी के मजबूर करने के सवाल पर आरिफा ने कहा कि उसने अपनी मर्जी से धर्म बदला है और मुस्लिम युवक फैज मोदी से शादी की है।

महिला की गवाही के बाद जस्टिस गोपाल कृष्ण व्यास की अध्यक्षता वाली बेंच ने उसे नारी निकेतन से जाने और अपने पति के साथ जाने की इजाजत दे दी। इसके साथ अदालत ने यह भी कहा कि लड़की बालिग है, इसलिए वह अपनी मर्जी से शादी करने के लिए आजाद है।

राजस्थान हाई कोर्ट ने पुलिस को आरिफा की सुरक्षा सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया। याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में फैज मोदी पर आरिफा (पायल सिंघवी) को आपत्तिजनक तस्वीरों के सहारे ब्लैकमेल करने और उसका अपहरण करने का आरोप लगाया था।

याचिका में यह भी कहा गया था कि उसका निकाहनामा फर्जी है और जबरन धर्म परिवर्तन कराने के बाद बनवाया गया है। पिछली सुनवाई पर राजस्थान हाई कोर्ट ने पुलिस को एफआईआर दर्ज करने और कथित लव जिहाद की जांच करने का निर्देश दिया था।

इसके साथ आरिफा को नारी निकेतन भेज दिया था। अदालत ने इस मामले में एफआईआर दर्ज न करने के लिए पुलिस के कामकाज पर नाराजगी जताई थी।

Top Stories