Thursday , December 14 2017

ख़ुलासा- BJP कार्यकर्ताओं ने रची सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने साजिश, कर रहे थे हथियार और बम इकट्ठा

दशहरे के दसमी यानी 10 सितंबर के दिन पूजा के बाद पश्चिम बंगाल में बीजेपी कार्यकर्ता द्वारा सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने कि कोशिश की जा रही है। जिसकी जानकारी सोशल मीडिया के जरिए हुई है। फेसबुक पर एक चैट के दौरान एक बीजेपी नेता ने कहा कि विजयादशमी को राज्य में दंगा करने के लिए हथियारों और बमों को इकट्ठा करने की बात कही गई है।

हालांकि इस खबर की जानकारी नेशनल हेराल्ड के द्वारा प्रकाशित की गई। जिसमे सोशल मीडिया यूजर संतोष कुमार ने इस बात को कबूल किया कि विजयादशमी पर पूजा के बाद सांप्रदायिक सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश की जा रही थी।

ख़बरों की माने तो कुछ वरिष्ठ नेताओं से मिलकर संतोष कुमार ने एक टीम बनाई जिसको बंगाल के विभिन्न हिस्सों में सांप्रदायिक सौहार्द बिगड़ने के कार्य के लिए बनाया बता गया। हालांकि की इस समूह पर तिल्जाला मस्जिद पर हमला करने का आरोप भी लगा है। जिसके बाद मुसलमानों को दो दिन के लिए अपनी नमाज रोकनी पड़ी थी।

इस शख्स के भाजपा के बड़े नेताओं के साथ भी सम्बन्ध होने की जानकारी मिली है। जिनमे बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और पश्चिम बंगाल के बीजेपी सांसद रूपा गांगुली शामिल होने की बात कही जा रही है। इसकी पुष्टि कुछ तस्वीरों के द्वारा की गई है। इतना ही नहीं इस टीम में राज्य के विभिन्न हिस्सों से बीजेपी और आरएसएस के कार्यकर्ता शामिल हैं।

नेशनल हेराल्ड से बातचीत करते हुए संतोष ने दावा किया है कि वर्तमान समूह के आठ से 10 सदस्यों को इन समूहों द्वारा शस्त्रों का इस्तेमाल करने और दुर्गा पूजा के दौरान कार्रवाई करने के लिए प्रशिक्षित किया गया है। टीम में दक्षिण 24 परगनाओं के लगभग 400 सदस्य हैं, जिनमें भाजपा की बंगाल इकाई के कुछ प्रमुख सदस्य शामिल हैं।

हालांकि इस बात की पुष्टि के बाद अब देखना होगा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ऐसे अराजक तत्वों से कैसे निपटेंगीं।

TOPPOPULARRECENT