बुजुर्ग दंपती ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर की इच्छामृत्यु की मांग

बुजुर्ग दंपती ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर की इच्छामृत्यु की मांग
Click for full image

मुंबई चारणी रोड के पास ठाकुरद्वार में रहने वाले एक बुजुर्ग दंपति ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर इच्छामृत्यु की मांग की है। उन्होंने यह पत्र 21 दिसंबर 2017 को लिखा था है। दरअसल, 79 वर्षिय इरावती लवाटे और उनके 87 वर्षिय पति नारायण लवाटे (87) ने इसलिए यह मांग की है क्योंकि उनको डर है कि वो समाज में योगदान देने में सक्षम नहीं हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इरावती लवाटे और उनके पति नारायण लवाटे को किसी तरह की शारीरिक परेशानी नहीं है। इतना ही नहीं इरावती स्‍कूल प्रिंसिपल भी रह चुकी हैं, जबकि नारायण पूर्व सरकारी कर्मचारी हैं। इरावती ने कहा कि शादी के पहले साल में हम दोनों ने बच्‍चा नहीं करने का फैसला लिया,लेकि बुजुर्ग अवस्‍था में हम लोग नहीं चाहते कि कोई दूसरा हमारी जवाबदेही ले।

 

दंपति ने अपने पत्र में लिखा है कि बीमारी के कारण शरीर का काम नहीं कर पाने की वजह से वो समाज के लिए अपना कोई योगदान नहीं कर सकेंगे, जिसकी वजह से वो राष्‍ट्रपति से इच्छामृत्यु की मांग कर रहे हैं। बता दें कि इच्छामृत्यु में आम तौर पर पेन किलर का ओवरडोज दिया जाता है, जिससे की व्‍यक्ति की मौत हो जाए, लेकिन भारतीय कानून में इच्छामृत्यु का प्रावधान नहीं है।

Top Stories