कर्नाटक : मिसाल बना नजमा का निकाह और 11 हिन्दू जोड़ों का सामूहिक विवाह

कर्नाटक : मिसाल बना नजमा का निकाह और 11 हिन्दू जोड़ों का सामूहिक विवाह
Click for full image

बेल्लारी जिले में 23 वर्षीय एस नजमा की शादी तय हो गई थी लेकिन उसने अपने पिता इनायत से इसको एक असामान्य शादी बनाने के लिए कहा तो उन्होंने बेटी की इच्छा को देखते हुए 11 हिंदू जोड़ों का विवाह एक ही मंडप में करवा दिया।

बुधवार को जब इंटीरियर डिजाइन रसूल से निकाह कर चुकी कंप्यूटर विज्ञान में स्नातक नजमा की शादी का रेसप्शन हुआ।

दुल्हन के पिता ने बल्लारी जिले के हगरी बोम्मनहल्ली में लगभग 5,000 मेहमानों के लिए दोपहर का भोजन प्रायोजित किया और हिंदू दुल्हनों के लिए उपहार, नए कपड़े, थाली, पैर की अंगुली के छल्ले, और घरेलू सामान भी दिया।

हगारी बोम्मनहल्ली में नारायण देवराकेरे के एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक इनायत ने कहा कि मैं नजमा की इच्छा से खुश हूं कि मैंने गरीब परिवारों की मदद करने के लिए सामूहिक विवाह की व्यवस्था की है।

वह सभी समुदायों के जोड़ों की शादी करने में मदद करने के लिए तैयार था। इनायत के इस प्रयास को स्थानीय शिक्षक बिरादरी ने आसान बना दिया था। उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने सहयोगियों के साथ इस विषय पर चर्चा की थी।

दो शिक्षकों रंगनाथ हवलदार और आर कोटरेगौड़ा ने सामूहिक विवाह में शिरकत करने वाले जोड़ों की पहचान की। इनमें से अनुसूचित जाति से दो और अनुसूचित जनजातियों से तीन जोड़े थे।

नजमा ने कहा कि उनके पिता ने जरूरतमंदों के प्रति हमदर्दी करना सिखाई है। उसने कहा, मैं गरीबों की मदद करना जारी रखना चाहती हूं।

इसमें शिरकत करने वाले सभी नवविवाहितों के रिश्तेदारों ने इनायत और उनके परिवार की प्रशंसा की।  इनायत ने कहा कि मेरे दामाद और उनके परिवार के सदस्य भी बहुत खुश थे।

Top Stories