दिल्ली हिंसा में चार्जशीट: कट्टर हिन्दू एकता के नाम से बनाया गया था वाटस्अप ग्रुप!

दिल्ली हिंसा में चार्जशीट: कट्टर हिन्दू एकता के नाम से बनाया गया था वाटस्अप ग्रुप!

दिल्ली के गोकलपुरी इलाके में 25-26 फरवरी को हुए दंगे के मामले में दिल्ली पुलिस ने कुछ दिन पहले कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दिया था। 

 

चार्जशीट के मुताबिक, गोकलपुरी इलाके के जोहरीपुर पुलिया नाले में एक विशेष समुदाय के 9 लोगों की हत्या कर उनकी लाशें फेंक दी गई थी इ।स मामले में पुलिस ने दूसरे समुदाय के 9 लोगों को गिरफ्तार किया था।

 

चार्जशीट के मुताबिक, दंगे फैलाने और एक विशेष समुदाय के लोगों की हत्या करने और आगजनी का बदला लेने के लिए ‘कट्टर हिंदू एकता’ नाम से एक व्हाट्सऐप ग्रुप बनाया गया था।

 

इस ग्रुप में 125 लोगों को शामिल किया गया था. यह ग्रुप 25 और 26 फरवरी को हुई हिंसा के एक दिन पहले यानी 24 फरवरी को बनाया गया था।

 

इस गुप के एक मेंबर ने लिखा था कि में गंगा विहार का रहने वाला हूं. अगर कोई दिक्कत आए, लोग कम पड़ें, तो मुझे बताना मैं पूरी फौज लेकर आ जाऊंगा।

 

हमारे पास सब समान है, गोली बंदूक सबकुक. अभी-अभी तुम्हारे भाई ने दो मारे भी है और नाले में फेंका है।

 

चार्जशीट में लिखा है 25-26 फरवरी को दंगों के दौरान जोहरीपुर नाले के पास से जो लोग गुजर रहे थे, उनसे इस व्हाट्सऐप ग्रुप से जुड़े उपद्रवी उनका नाम पूछ रहे थे, फिर जय श्रीराम के नारे लगाने को बोलने लगे।

 

जिसने जय श्रीराम का विरोध किया, उसकी हत्या कर उसके शव को नाले में बहा दिया गया था। चार्जशीट के मुताबिक, मुख्य आरोपी अभी तक फरार है।

 

क्राइम ब्रांच ने व्हाट्सऐप ग्रुप और हत्या से जुड़े एक आरोपी की सबसे पहले गिरफ्तारी की और तब उसका मोबाइल फोन बरामद हुआ था। तब जाकर दंगो में हत्याओं को अंजाम देने के लिए इस व्हाट्सऐप ग्रुप का खुलासा हुआ था।

 

बता दें कि हाल ही में दिल्ली हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कड़कड़डूमा कोर्ट में 3 चार्जशीट दायर की है।

 

3 मार्च 2020 को गोकुलपुरी थाने में दर्ज 3 एफआईआर पर यह चार्जशीट दायर हुई है। तीनों एफआईआर में 9 लोगों को आरोपी बनाया गया है। ये सभी आरोपी न्यायिक हिरासत में हैं ह।त्या, साजिश रचने समेत कई धाराओं में यह चार्जशीट दायर हुई है।

 

साभार- न्यूज़18

 

Top Stories