Monday , December 11 2017

नीतीश कुमार ने कहा- शरद यादव जदयू में रहें या न रहें, वे फ़ैसला लेने के लिए आज़ाद हैं

नई दिल्ली: जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव के बागी तेवर के बीच बिहार के मुख्यमंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा कि वे फैसला लेने के लिए आज़ाद हैं। दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बात कही।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इसके अलावा नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात को नैतिक करार दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि अगस्त में विकास के मुद्दे पर फिर बैठक होगी। शुक्रवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी उनकी मुलाकात हुई। इस दौरान बिहार भाजपा के प्रभारी भूपेंद्र यादव भी मौजूद रहे।

नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ गठबंधन को पार्टी का फैसला बताया। उन्होंने कहा कि हम पार्टी में सब की सहमति के बाद ही भाजपा के साथ आए हैं और बिहार में सरकार बनाए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि वह कुछ भी करने से पहले पार्टी के लोगों से ज़रूर पूछते हैं।

गौरतलब है कि जादू के संस्थापक नेता शरद यादव ने भाजपा के साथ जदयू के गठबंधन को जनता के साथ धोखा करार दिया है। शरद यादव ने कहा कि वह कार्रवाई से नहीं डरते हैं, बेशक सरकार नीतीश कुमार की है, लेकिन मैं जनता के लिए जदयू का नेता हूँ।

TOPPOPULARRECENT