Wednesday , April 25 2018

जिन शादियों में DJ बजेगा वहां निकाह नहीं पढ़ाया जाएगा: क़ाज़ी शहर

नई दिल्ली: शहर के क़ाज़ी मुफ्ती अजहर हुसैन ने कहा कि वह ऐसी शादियों का बहिष्कार करेंगे जिनमें डीजे होंगे, क्योंकि इस्लाम में डीजे जायज़ नहीं हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

सूत्रों के अनुसार उन्होंने कहा कि हम उन शादियों में निकाह नहीं पढ़ाएंगे, जहां डीजे होगा या जहां संगीत और नाच होगा। ये इस्लाम के खिलाफ हैं और हम लोग एसी शादियों का बहिष्कार करेंगे। उन्होंने कहा कि अगर नाच गाना शादी से पहले होते हैं और काजी को उसकी जानकारी नहीं है, तो कोई बात नहीं।

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के दारुल कज़ा विभाग में दिल्ली के काजी मोहम्मद कामिल ने कहा कि हम उनके रुख का समर्थन करते हैं। लेकिन इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि ‘यह लोगों की अपनी इच्छाओं पर निर्भर करता है कि वे चीजों कितनी गंभीरता से और किस तरह लेते हैं।

दूसरी ओर आल इंडिया मिल्ली काउंसिल में दिल्ली प्रदेश के महासचिव ज़की अहमद बेग ने बीबीसी से बात करते हुए कहा कि उसूली तौर पर सब उसका समर्थन करते हैं, लेकिन इसके कार्यान्वयन से पहले जनता में जागरूकता लाने की जरूरत है, और उन्हें यह बताने की जरूरत है कि इस्लाम में संगीत किन कारणों की वजह से मना है।

TOPPOPULARRECENT