नोट के पर धार्मिक या आपत्तिजनक शब्द आदि लिखा तो अवैध हो जायेगा नोट

नोट के पर धार्मिक या आपत्तिजनक शब्द आदि लिखा तो अवैध हो जायेगा नोट
Click for full image

नयी दिल्ली : नोटबंदी के एक साल पूरे के बाद 500, 2000 और 200 रुपये के नए नोटों को अब एक नई जानकारी सामने आई है, क्लीन नोट पॉलिसी के तहत आरबीआई ने किसी भी शख्स को नोट पर कुछ भी न लिखने की हिदायत दी है। गाइडलाइन के मुताबिक, नोट पर धार्मिक या राजनीतिक नारे या व्यावसायिक प्रयोजन वाले आपत्तिजनक शब्द लिखते हैं तो नोट अवैध माना जाएगा।

नोटबंदी के तुरंत बाद यह गाइडलाइन जारी कर दी गई थी और बैंकों को इसका सख्ती से पालन करने का निर्देश दिया गया था। एक अधिकारी ने बताया कि गाइडलाइन के मुताबिक, पेन, स्याही या स्कैच से लिखने की अनुमति नहीं है। किसी स्थिति में बैंक ऐसे नोट स्वीकार कर भी ले, लेकिन अगर नोट पर धार्मिक, राजनीतिक स्लोगन, आपत्तिजनक शब्द आदि लिखा हो तो नोट रिफंड नियमावली-2009 के तहत वह नोट अवैध होगा।

बैंक स्टेपलर किए नोट भी नहीं लेगा। वहीं अगर कुछ भी लिखना ज्यादा ही जरूरी है तो पेंसिल का इस्तेमाल कर सकते हैं, वो भी कार्बन पेंसिल का। इसके अलावा लोगों से अपील की गई है कि वे नोट को तोड़ें मरोड़ें नहीं। हां, अगर किसी वजह से नोट फट जाए तो उसे बैंक में जमा करा सकते हैं।

Top Stories