NPR पर बयान: अरुंधति रॉय के खिलाफ़ शिकायत

NPR पर बयान: अरुंधति रॉय के खिलाफ़ शिकायत

दिल्ली विश्वविद्यालय में विवादित भाषण देने को लेकर लेखिका अरुंधति रॉय के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है।

खास खबर पर छपी खबर, यह शिकायत दिल्ली के तिलक मार्ग पुलिस थाने में अधिवक्ता राजीव कुमार रंजन द्वारा दर्ज कराई गई है।

उन्होंने लेखिका और अन्य लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 295ए, 504, 153 और 120बी के तहत एक प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है।

रॉय ने 25 दिसंबर को भारतीयों से एनपीआर की जनगणना में गलत नाम और पता बताने की अपील की थी। नागरिकों में डर पैदा करते हुए रॉय ने भीड़ को संबोधित करते हुए कहा था कि एनपीआर के आंकड़ों का इस्तेमाल एनआरसी के लिए किया जाएगा।

शिकायत में कहा गया है कि लेकिन इससे भी ज्यादा आश्चर्य की बात तो यह थी कि अरुंधति ने कहा कि मोदी सरकार को बाकी के चार साल नहीं मिलने चाहिए।

लेखिका ने आगे कहा, अब यह एनपीआर क्या है? एनपीआर पहले ही हो चुका है। एनपीआर में वे आपके घर आएंगे और आपसे बस आपका नाम और आपका फोन नंबर पूछेंगे। ये एनआरसी के लिए आंकड़े हैं।

लेखिका ने और भी कई बातें कही, जो देश में सीएए विरोध प्रदर्शन की परिस्थिति को और भी गंभीर बना सकती है। रॉय ने कहा, लेकिन हमें उनसे अगले चार साल तक लडऩा है।

सबसे पहले तो हमें उन्हें बाकी के चार साल देने ही नहीं चाहिए, लेकिन हमारे पास योजना भी होनी चाहिए। जब वे आपके घर आपका नाम पूछने आएंगे, तब आप उन्हें कोई नाम जैसे रंगा बिल्ला, कुंग फू कुत्ता जैसे बताना, अपने पते के तौर पर 7 रेस कोर्स मार्ग बताना और कोई एक फोन नंबर तय कर लेना है। हम लाठी और गोलियां खाने के लिए पैदा नहीं हुए हैं।

Top Stories