देश में उर्दू अख़बारों के प्रकाशन की संख्या तीसरे नंबर पर

देश में उर्दू अख़बारों के प्रकाशन की संख्या तीसरे नंबर पर
Click for full image

नई दिल्ली: देश के अंदर अख़बारों की प्रकाशन की संख्या के हवाले से आरएनआई की ताज़ा रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि हिंदी और अंग्रेजी के बाद उर्दू की प्रकाशन संख्या सबसे अधिक है। सूचना के मुताबिक 2016-17 के बीच सबसे अधिक हिंदी अख़बारों की प्रकाशन संख्या 23 करोड़ 89 लाख 75 हजार 773 थी। जबकि अंग्रेजी अख़बारों की प्रकशन संख्या 5 करोड़ 65 लाख 77 हज़ार थी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उइसी तरह उर्दू अख़बारों की प्रकाशन संख्या 3 करोड़ 24 लाख 27 हजार रही। सिर्फ यही नहीं रजिस्टर्ड अख़बार और रिसाला की संख्या में 3.58 फीसद का इजाफा भी हुआ है। इसके आलावा उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है जहां सबसे ज्यादा अख़बार व मैगज़ीन रजिस्टर्ड हैं।

आरएनआइ की सालाना रिपोर्ट जारी किए जाने के मौके पर सुचना व प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि यह रिपोर्ट पिछले एक साल में भारतीय अख़बारों की छपने के संबंध खाका के बारे में एक अहम दस्तावेज़ है।

Top Stories