Wednesday , December 13 2017

आला हज़रत के 99 वें उर्स के मौके पर मुस्लिम संगठनों का आतंकवाद के खिलाफ बड़ा अभियान चलाने का ऐलान

बरेली: आला हज़रत की 99 वें उर्स के मौके पर मुसलमानों में मजबूत पकड़ वाली संस्था ऑल इंडिया जमाअत रजा मुस्तफा और उलेमा ए इस्लाम संगठन ने संयुक्त रूप से आतंकवाद के खिलाफ अभियान चलाने की घोषणा की है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

दोनों संगठनों ने आज यहां एक बैठक के बाद साझा संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों से कहा कि “हम आतंकवाद के समाप्ति का समर्थन करते हैं और आतंकवाद के खिलाफ अभियान चलाने का ऐलान किया है। कश्मीर और अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न अंग है और इस पर पड़ने वाले बाहरी दबाव को स्वीकार नहीं किया जाएगा।

बैठक में देश के मुसलमानों की आर्थिक, शैक्षिक और सामाजिक पिछड़ेपन को दूर करने के लिए गंभीरता से विचार विमर्श किया गया। यह बैठक मौलाना असजद रज़ा ख़ान के नेतृत्व में हुआ और बैठक की अध्यक्षता रजा अकेडमी मुंबई के अध्यक्ष मौलाना सईद नूरी ने की। बैठक में एक राष्ट्रीय एजेंडा तैयार किया गया, जिसे राष्ट्रपति को भेजा जाएगा।

एजेंडे में कहा गया है कि मुस्लिम पर्सनल ला में सरकारों के हस्तक्षेप को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। देश में लव जिहाद और गौरक्षा के नाम पर फैलाई जा रही सांप्रदायिकता को रोकने के लिए एक उपयुक्त कार्रवाई की मांग की गई है। एजेंडे में कहा गया है कि मदरसों को आरोपों से बचाने के लिए केन्द्रीय मदरसा बोर्ड बनाया जाना चाहिए, जिसका प्रतिनिधित्व मुसलमान स्वंय करें। बंगाल,दिल्ली और हरियाणा सरकार की तरह अन्य राज्यों में भी मस्जिद के इमामों के वेतन और व्यवस्था वक्फ बोर्ड की ओर से कराई जाए।

TOPPOPULARRECENT