Saturday , December 16 2017

VIDEO: उमर की हत्या दो आपराधिक गिरोहों के बीच मारपीट और गोलीबारी का नतीजा: अलवर पुलिस

अलवर। राजस्थान के अलवर जिला में एक कथित गौ तस्कर के हत्या को गोविंदघर पुलिस ने दो गिरोहों के बीच झड़प और गोलीबारी के नतीजे में होने वाला हत्या बताया। गोविंदघर पुलिस ने स्पष्ट किया है कि पिछले कुछ समय में जो कुछ हुआ है वह यह है कि दोनों गिरोह आपराधिक गतिविधियों में शामिल हैं, और इस घटना के परिणामस्वरूप दो अपराधियों के बीच हमले और फायरिंग के नतीजे में पेश आया।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इस में ताहिर और जावेद ने नकली नंबर प्लेटें इस्तेमाल की हैं। इस मामले में गिरफ्तार आरोपी भगवान उर्फ़ काला गिरोह के ज़रिये हत्या, लूट और हत्या की कोशिश का मामला पाया गया है। न्यूज़ नेटवर्क समूह न्यूज़ 18 के अनुसार पुलिस ने कहा कि पिकअप वैन में 6 जानवरों को तस्करी के लिए ले जा रहा था। जिसमें आरोपी ताहिर, मृत उमर और जावेद सवार थे।

इस मामले में गिरफ्तार भगवान, राम वीर और उनके अन्य साथियों ने पिकअप गाड़ी को रोका। दोनों गिरोहों की आपस में मारपीट हुई और दोनों ने ही एक दूसरे पर गैरकानूनी हथियार से फायरिंग की। उमर की हत्या भगवान और सुके साथियों ने की। तस्करों से बरामद की गई नंबर प्लेट भी टू व्हीलर गाड़ी की है जिसकी जांच कर ली गई है।

पुलिस के मुताबिक मवेशियों की तस्करी के मामले में ताहिर के खिलाफ पांच मुकदमे दर्ज हैं और वह फरार चल रहा था। उमर के खिलाफ भी एक मुक़दमा 2012 में दर्ज किया गया था जिस में वह फरार चल रहा था।

TOPPOPULARRECENT