तस्लीमा नसरीन प्रधानमंत्री की बहन बनकर भारत में रह सकती है, तो रोहिंग्या मुसलमान भाई बनकर क्यों नहीं: ओवैसी

तस्लीमा नसरीन प्रधानमंत्री की बहन बनकर भारत में रह सकती है, तो रोहिंग्या मुसलमान भाई बनकर क्यों नहीं: ओवैसी
Click for full image

हैदराबाद। रोहिंग्‍या मुद्दे पर भड़के ऑल इंडिया मजलिस-ए-इतेहादुल मुसलीमिन प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शुक्रवार को जबर्दस्‍त तरीके से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला।

ओवैसी ने पीएम मोदी को मिस्‍टर मोदी कहकर संबोधित किया और कहा, ‘जब तस्‍लीमा आपकी बहन बनकर रह सकती है तो रोहिंग्‍या आपके भाई क्‍यों नहीं।’

बांग्‍लादेश, पाकिस्‍तान और श्रीलंका के भारत निवासी शरणार्थियों का उदाहरण देते हुए ओवैसी ने कहा कि रोहिंग्‍या शरणार्थियों को देश में वैसे ही अनुमति मिलनी चाहिए जैसे अन्‍य देश के शरणार्थियों को दी जाती है।

ओवैसी ने बांग्‍लादेशी लेखक तस्‍लीमा नसरीन का भी जिक्र किया जो 1994 से निष्‍कासन के बाद भारत में रह रहीं हैं और कहा कि यदि वे प्रधानमंत्री मोदी की बहन हैं तो रोहिंग्‍या उनके भाई क्‍यों नहीं हो सकते हैं।

जनसमूह को संबोधित करते हुए ओवैसी ने कहा, ‘हुकूमत कहती है बीजेपी की हम तमाम रोहिंग्‍या को उठाकर वापिस भेजे देंगे हिंदुस्‍तान के वजीर-ए-आजम हम आपसे पूछना चाहते हैं, ‘कौन सा कानून है जिसके तहत आप इन्‍हें बाहर भेज देंगे।

आप मुझे बताइए कौन सा कानून है। मिस्‍टर मोदी आप हिंदुस्‍तान की पर्मानेंट मेंबरशिप चाहते हैं तो क्‍या यह आपका मिजाज होगा एक सुपर पावर का।‘

Top Stories