Wednesday , July 18 2018

श्रीदेवी की मौत से अफगानिस्तान में भी शोक की लहर, ‘खुदा गवाह’ में अफगानी लड़कियां श्रीदेवी में खुद का अक्स देखने लगीं थी

श्रीदेवी की निधन की खबर सुनकर अफगानिस्तान में भी शोक की लहर दौड़ पड़ी. अफगानी पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म ‘खुदा गवाह’ में उन्होंने बेनजीर का किरदार इस तरह निभाया कि अफगानी लड़कियां श्रीदेवी में खुद का अक्स देखने लगीं थी. वहीं अफगानिस्तान की पीढ़ी आज भी अमिताभ बच्चन के ‘अफगानी सरदार’ बादशाह खान की किरदार को भूल नहीं पायी है.

कहा जाता है कि अफगानिस्तान में शूटिंग के दौरान तत्कालीन अफगानी राष्ट्रपति नजीबुल्लाह ने अमिताभ बच्चन और श्रीदेवी की सुरक्षा के लिए देश के लगभग आधे सुरक्षा तंत्र को तैनात कर दिया था. बताया जाता है कि ‘खुदा गवाह’ अफगानिस्तान के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी हिट फिल्म है. बीबीसी के एक खबर के मुताबिक ‘खुदा गवाह’ के रिलीज होते ही अफगानिस्तान के सिनेमा हॉल में दर्शकों की भीड़ उमड़ पड़ी थी. बताया जाता है कि लगभग दस सप्ताह तक यह फिल्म अफगानिस्तान के सिनेमाघरों में चली.

अफगानिस्तान की पृष्ठभूमि पर अधारित इस फिल्म में श्रीदेवी और अमिताभ दोनों की जादुई जोड़ी का जबरदस्त केमिस्ट्री नजर आया था. खासतौर से उनके ड्रेस को दर्शकों ने काफी पसंद किया था. अमिताभ – श्रीदेवी दोनों अफगानी पहनावे में नजर आये. फिल्म में बादशाह खान ( अमिताभ बच्चन ) और बेनजीर खान ( श्रीदेवी ) दोनों एक दूसरे से प्यार करते हैं. फिल्‍म में बादशाह खान को अफगानिस्तान की बेनज़ीर (श्रीदेवी) से प्रेम हो जाता है, लेकिन उससे शादी करने के लिये उसे भारत की जेल में बंद हबीबुल्‍लाह नाम के एक कैदी का सिर कलम करना होता है.  बादशाह खान प्यार और प्रतिशोध के बीच उलझ जाता है. फिल्म का टाइटल सांग ..’इस प्यार का खुदा गवाह’ काफी हिट रहा है.

‘तू न जा मेरे बादशाह, एक वादे के लिये एक वादा तोड़ कर, मैं वापस आउंगा’, …. यह गीत आज भी लोगों की स्मृति में दर्ज है. अफगानिस्तान के मजार – ए- शरीफ और कंधार इलाके में ‘ खुदा गवाह’ फिल्म की शूटिंग हुई.  हालांकि यह भारत में उतनी हिट नहीं हुई लेकिन अफगानिस्तान में ब्लॉकबस्टर साबित हुई. फिल्म की शूटिंग के दौरान सुरक्षा के लिहाज से पांच टैंक लगाये गये थे.
 फिल्म ‘खुदा गवाह’ का है। इस फिल्म की शूटिंग अफगानिस्तान में हुई थी। 80 का दशक श्रीदेवी का दशक था। उन्होंने ‘चांदनी’ और ‘नगीना’ जैसी फिल्मों में अपने बेहतरीन अभिनय से लोगों के दिलों में जगह बना ली थी। यहां तक कि इन फिल्मों के बाद उनकी फैन फॉलोइंग विदेशों तक में हो गई थी।
वहीं, साल 1992 में ‘खुदा गवाह’ की शूटिंग के दौरान तो अफगानिस्तान में लोग श्रीदेवी की एक झलक पाने के लिए जान जोखिम में डाल देते थे। उन्हें देखने के लिए फैन्स की भीड़ छतों पर चढ़ जाती थी। एक बार जब श्रीदेवी फिल्म की शूटिंग कर रही थीं, तब उन्हें देखने के लिए पास की एक छत पर काफी भीड़ जमा हो गई और नतीजा यह हुआ कि पूरी छत ही भरभराकर नीचे गिर गई थी। यह वाकया बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में अफगानिस्तान के रहने वाले अमीन ने बताया है। उन्होंने बताया कि उनके आने से पहले ही हजारों लोग उन्हें देखने के इंतजार में थे, कुछ लोगों के हाथों में उनके पोस्टर थे और कुछ लोग छतों भी चढ़ गए थे। तभी एक कच्ची छत भरभराकर गिर गई थी। उन्होंने ने कहा, “कला की कोई सीमा नहीं होती, श्रीदेवी जितनी भारत की थीं, उतनी ही अफगानिस्तान की भी।”
बता दें कि अमिताभ बच्चन फिल्म ‘खुदा गवाह’ में लीड रोल में थे। यह फिल्म अपने जमाने में सुपरहिट हुई थी। अफगानिस्तान में शूट की गई इस फिल्म के 25 साल पूरे करने पर अमिताभ बच्चन ने ट्वीट कर खुशी जाहिर की थी।
TOPPOPULARRECENT