Tuesday , September 18 2018

पाकिस्तान ने ‘ऑस्कर अवार्ड्स’ के मामले में भारत को पीछे छोड़ा

नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के बीच हमेशा से कॉम्पिटिशन का माहौल होता रहा है। चाहे वह खेल की दुनिया हो, फ़िल्मी दुनिया हो या फिर मोडलिंग। भले ही भारत पाकिस्तान से कई मामलों में आगे है, लेकिन ऑस्कर अवॉर्ड के मामले में पाकिस्तान का रिकॉर्ड भारत से कहीं बेहतर है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ऑस्कर में डॉक्यूमेंट्री फिल्मों के अवॉर्ड जीतने के मामले में पाकिस्तान भारत को पीछे छोड़ आगे निकल गई है। सर्वश्रेष्ठ डॉक्यूमेंट्री के लिए पर्सनल कैटिगरी में पाकिस्तान ने अब तक कुल दो अवॉर्डस जीते हैं, जबकि भारत का खाता अभी भी खाली है।

दरअसल, पाकिस्तानी पत्रकार और फिल्मकार शरमीन ओबैद चिनॉय ने दोनों ही ऑस्कर अवॉर्ड अपने नाम किए हैं। शरमीन ओबैद पहली पाकिस्तानी नागरिक हैं जिन्होंने ऑस्कर अवॉर्ड जीता है।

बता दें कि पाकिस्तानी फिल्मकार शरमीन ओबैद चिनॉय को साल 2011 में पहला अवॉर्ड मिला था, और यह पाकिस्तान का भी पहला ही अवॉर्ड था। शरमीन ओबैद ने यह अवॉर्ड ‘सेविंग फेस’ के लिए जीता था। फिल्म का विषय लड़कियों के चेहरे पर तेजाब फेंके जाने के बाद उनके चेहरे को बचाने की कोशिश पर है।

वहीँ 2016 में भी शरमीन ने अपनी डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘अ गर्ल इन द रिवर’ द प्राइस ऑफ अनफॉरगिवनेस’ के लिए ऑस्कर जीता था।

TOPPOPULARRECENT