अमेरिका, इजरायल और भारत की दोस्ती मुस्लिम देशों के लिए खतरा, हमें साथ आना होगा- पाकिस्तान

अमेरिका, इजरायल और भारत की दोस्ती मुस्लिम देशों के लिए खतरा, हमें साथ आना होगा- पाकिस्तान
Click for full image

इस्लामाबाद। भारत, इजराइल और अमेरिका के बीच मजबूत होते रिश्तों ने पाकिस्तान की नींद उड़ा दी है। पाकिस्तान इन तीनों देशों के आपसी संबंधों से घबराया हुआ है। पाकिस्तान ने कहा है कि भारत, इजराइल और अमेरिका का गठजोड़ मुस्लिम देशों के लिए खतरा है। सबी मुस्लिम देशों को एक साथ आना चाहिए।

मीडिया खबरों के अनुसार, पाकिस्तानी सेनेट के चेयरमैन रजा रब्बानी ने पार्लियामेंटरी यूनियन ऑफ इस्लामिक कंट्रीज (PUIC) के 13 वें सत्र को संबोधित किया।

इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत, इजराइल और अमेरिका के बीच बढ़ता गठजोड़ मुस्लिम देशों के खतरा है। इस खतरे ने निपटने के लिए सबी मुस्लिम देशों को एक साथ आने की जरूरत है।

पाकिस्तानी अखबरा डॉन में प्रकाशित खबर के मुताबिक, सेनेटरी सचिवालय ने एक बयान जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि रब्बानी ने PUIC के 13वें सत्र में संबोदित करते हुए कहा कि वर्तमान समय में दुनिया में रिश्तों में बड़ा बदलाव आया है।

आज पाकिस्तान और ईरान हैं। कल कोई और मुस्लिम देश इनके निशाने पर होगा। रब्बानी ने कहा कि अमेरिका द्वारा यरुशलम की ऐतिहासिक स्थिति को बदलने का प्रयास अंतरराष्ट्रीय कानून और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव का खुला उल्लंघन। पाकिस्तान अमेरिका की ऐसी कोशिशों का विरोध करता है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका का यह कदम पश्चिम एशिया की शांति प्रक्रिया को पटरी पर उतारने वाला है। पाकिस्तान इसकी निंदा करता है। इस तरह के प्रयास कानून के उल्लंघन के साथ साथ अंतरराष्ट्रीय राजनीतिक मानकों का अनादर करने वाला भी है।

रब्बानी ने पाकिस्तान को आतंक से पीड़ित देश बताया। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान खुद आज आतंकवाद से पीड़ित है। हम आतंकवाद को खत्म करने के लिए सक्रिय भूमिका निभाते रहेंगे।

गौरतलब है कि इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू अपने 6 दिवसीय भारत दौरे पर हैं। नेतन्याहू के इस दौरे से भारत और इजराइल के संबंध और मजबूत हुए हैं। इसके अलावा अमेरिका और इजराइल के रिश्ते बी काफी मजबूत है।

Top Stories