हाफिज़ सईद पर ठोस कदम उठाए पाकिस्तान- अमेरिका

हाफिज़ सईद पर ठोस कदम उठाए पाकिस्तान- अमेरिका

अमेरिका ने हाफिज सईद की गिरफ्तार पर पाकिस्तान की मंशा पर संदेह जताया है। ट्रम्प प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा है कि पिछली बार गिरफ्तारी के बावजूद आतंकवादी समूह लश्कर-ए-तायबा की गतिविधियों पर अंकुश नहीं लग सका था।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट कॉम के अनुसार, ट्रम्प प्रशासन का मानना है कि विंडो ड्रेसिंग यानी सिर्फ ऊपरी दिखावे की जगह ठोस कदम उठाना ज़रूरी है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने आतंकवाद के सफाये का संकल्प दोहराया है। अमेरिका को यकीन है कि पाकिस्तान की धरती का आतंकवादी समूह इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के अगले सप्ताह निर्धारित अमेरिका के दौरे से पहले एक शीर्ष प्रशासनिक अधिकारी ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, “हमने यह पूर्व में भी होते हुए देखा है और हम निरंतर एवं ठोस कार्रवाई चाह रहे हैं, महज दिखावा नहीं।” संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंकवादी घोषित सईद को बुधवार को गिरफ्तार किया गया। यह दिसंबर 2001 के बाद से उसकी सातवीं गिरफ्तारी है।

2001 में भारत की संसद पर हुए आतंकवादी हमले के फौरन बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया था। पाकिस्तान ने आतंकवादी समूह के खिलाफ क्या कदम उठाए हैं और क्या अमेरिका को उनमें भरोसा है, यह पूछे जाने पर अधिकारी ने कहा, “मैं आपको एक बार फिर आश्वस्त करता हूं, पहले की बातों से यह पूरी तरह स्पष्ट है।

इन समूहों को पाकिस्तानी सेना की खुफिया सेवाओं से किस तरह का समर्थन मिलता है, इसे लेकर हमें कोई भ्रम नहीं है। इसलिए हम ठोस कार्रवाई चाह रहे हैं।”

Top Stories