रोहिंग्या के खिलाफ हमले योजनाबद्ध और संगठित तरीके किया गया: संयुक्त राष्ट्र

रोहिंग्या के खिलाफ हमले योजनाबद्ध और संगठित तरीके किया गया: संयुक्त राष्ट्र

जिनेवा। संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के एक उच्च अधिकारी ने कहा है कि यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि एक दिन किसी अदालत का फैसला यह आये, जिसमें यह कहा जाए कि म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ नरसंहार किया गया था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के प्रमुख जैद अर्राअद हुसैन एक इंटरव्यू में कहा कि रोहंग्या के खिलाफ किए गए हमले सोची समझी योजनाबद्ध और संगठित तरीके से की गई थी। इंटरव्यू उन्होंने बताया कि उसने म्यांमार के नेता आंग सान सू ची से रोहिंग्या के खिलाफ सेना की कार्रवाई को रोकने के लिए ज्यादा कोशिश करने को भी कहा।

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार के प्रमुख जैद अर्राअद हुसैन ने पहले भी इस हमले को नस्लीय हिंसा करार दिया है, और ताजा टिप्पणियों में उनहोंने अपना रुख और भी सख्त किये हैं। उन्होंने कहा कि रोहिंग्याओं के खिलाफ हिंसा के जो तथ्य सामने आये हैं, इसमें इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि यह हमला योजनाबद्ध तरीके से किया गया है।

Top Stories