Monday , December 18 2017

उधर योगी की पुलिस इधर मोदी की तानाशाही! दिल्ली मार्च में शामिल होने आए BHU स्टूडेंट्स गिरफ़्तार

बीती रात बीएचयू से छात्र-छात्राओं का प्रतिनिधिमंडल दिल्ली मे यहां मार्च में शामिल होने आया था।  प्रधानमंत्री को ज्ञापन देने जाने के दौरान  उन्हें हिरासत में लिया गया।

आप को बता दें की काशी हिन्दू विश्वविद्यालय की घटना के विरोध में बीएचयू की छात्राओं के साथ मार्च निकाला जाना था। आन्दोलन से जुडी छात्राओं के मुताबिक चाणक्यपुरी थाने में देर रात तक उन्हें पूछताछ के लिए बैठाए रखा गया।

वहीं प्रतिनिधिमंडल के लोगों ने बताया कि उन्हें रेलवे स्टेशन जाने को कहा जा रहा है। पुलिस का कहना है कि वे रेलवे स्टेशन से सीधे बनारस वापस लौट जाएं। हालांकि पुलिस की ओर से इस पर कोई जवाब नहीं मिल सका।

प्रदर्शनकारी छात्राओं ने बताया कि बीते हफ्ते बीएचयू की एक छात्रा से बाइक सवार युवकों ने छेड़छाड़ की। इसके बाद कैंपस में पर्याप्त सुरक्षा और यौन उत्पीड़न के निवारण के प्रबंध न होने के खिलाफ आवाज उठी।

इस पर छात्राओं को 23 सितम्बर की आधी रात में पुरुष पुलिसकर्मियों ने लाठियों से पीटा गया। देश भर में हम सभी छात्राएं लगातार भेदभाव और असुरक्षा का शिकार हो रहे हैं। इसीलिए हम एकजुट हो रहे हैं।

 

 

TOPPOPULARRECENT