Friday , December 15 2017

UP पुलिस ने ATS अधिकारियों को आतंकी समझ कर लॉक-अप में किया बंद, खूब की पिटाई

काम से ज्यादा अपने कारनामों के लिए चर्चा में रहने वाली यूपी पुलिस ने एक बार फिर से अजब-गजब हरकत को अंजाम दिया है। इस बार सूबे की पुलिस ने मंगलवार रात एटीएस के तीन अधिकारियों को आतंकी समझकर लॉक-अप में बंद कर दिया और उनकी खूब पिटाई भी की।ये तीन तेलंगाना एटीएस अधिकारी यहा पर आतंकवादियों को पकड़ने आये थे।

ख़बर के मुताबिक़, मंगलवार रात इटावा के लखना बाईपास पर स्थानीय लोगों ने आतंकी समझकर तीन लोगों को पकड़ा लिया और उनकी पिटाई करके पुलिस को सौंप दिया।

दरअसल लखनऊ नकाउंटर के बाद पूरे प्रदेश में हाई अलर्ट था। तेलंगाना एटीएस के सभी तीन अफ़सर हिंदी नहीं बोल सकते थे इसलिए जनता और पुलिस उनकी बात समझ नहीं पाई और उनको संदिग्ध मानकर हवालात में डाल दिया।

बाद में अधिकारियो का एक और साथी थाने पहुंचा और अपने वरिष्ठ अधिकारियों से बात कराई, तब यूपी पुलिस यह जान सकी कि वे लोग तेलंगाना एटीएस के अधिकारी हैं और आतंकियों को पकड़ने के लिए जाल बिछा रहे थे। इसके बाद यूपी पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया।

हालांकि तब तक पूरी रात गुज़र चुकी थी। बताया जा रहा है कि यूपी एटीएस ने जो भी कार्रवाई की है वह तेलंगाना और केरल एटीएस की सूचना पर आधारित है।

ख़बर है कि दो दिन पहले ही तेलंगाना और केरल से आईबी को उत्तर प्रदेश में आतंकियों की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी गयी थी। हालाँकि जानकारी देने से पहले तंलागाना एटीएस ने खुद भी इस पर काम शुरू कर दिया था। 15 दिन से वे यहां डेरा डाल कर खुद आतंकियों की गिरफ्तारी के लिए जाल बिछा रहे थे लेकिन उसी आॅपरेशन के बीच वो इस हादसे का शिकार हो गए।

TOPPOPULARRECENT