Sunday , November 19 2017
Home / Delhi News / अँधा कानून! मरते वक़्त पहलू खान ने जिन हैवानों के नाम बताए थे, पुलिस ने सभी को दी क्लीन चिट

अँधा कानून! मरते वक़्त पहलू खान ने जिन हैवानों के नाम बताए थे, पुलिस ने सभी को दी क्लीन चिट

राजस्थान के अलवर में गौरक्षा के नाम पर हिंसा का शिकार हुए पहलू खान की हत्या मामले में नया मोड़ आया है। राजस्थान पुलिस ने हत्या के सभी आरोपियों को क्लीन चिट दे दी है।

राजस्थान पुलिस की ओर से पहलू खान की हत्या के छह मुख्य आरोपी जिन पर इनाम घोषित था लेकिन उन्हें अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई। हालांकि अब उन सभी छह आरोपियों को जांच में क्‍लीन च‍िट दे दी गई है।

अलवर के एसपी राहुल प्रकाश के अनुसार हत्या के इन सभी छह आरोपियों के खिलाफ अब केस बंद कर दिया गया है। सभी आरोपी हिंदू संगठनों से जुड़े थे।

जांच मे बरी करने की दो वजह बताई गई हैं, पहली मोबाइल कॉल की लोकेशन की जांच। इसमें बताया गया कि आरोपी वारदात के मौके पर नहीं गौशाला में थे। दूसरी वजह, गौशाला स्टाफ के बयान। इनमें दावा किया कि आरोपी घटना के समय गौशाला में थे।

अप्रैल महीने में पहलू खान और उनके परिवार के अन्य कुछ सदस्यों पर कथित गौरक्षकों ने उस वक्त हमला कर दिया था, जब वे जयपुर से गाय खरीदकर अपने घर ला रहे थे।

इस हमले में पहलू खान को गंभीर चोट आई थी, जिसकी वजह से हमले के दो दिन बाद उनकी मौत हो गई थी। मरने से पहले पहलू खान ने पुलिस को दिए बयान में हमला करने वालों में हुकुम चंद, नविन शर्मा, जगमाल यादव, ओम प्रकाश, सुधीर और राहुल सैनी का नाम लिया था।

हमले के दौरान पहलू खान के साथ मौजूद उनके बेटे इरशाद ने कहा, ‘यह धोखा है। हम लोगों ने उनके नाम भी सुने थे। हम लोग दोबारा से जांच की मांग करेंगे।’

इसके साथ ही इरशाद ने कहा कि अभी हमारी लड़ाई खत्म नहीं हुई है। जब तक इन छह लोगों को दोषी नहीं साबित किया जाता, हम लड़ाई लड़ते रहेंगे।

TOPPOPULARRECENT