अफवाहों के बाद बोली बुलंदशहर पुलिस- घटना का इज्तिमा कार्यक्रम से कोई संबंध नही

अफवाहों के बाद बोली बुलंदशहर पुलिस- घटना का इज्तिमा कार्यक्रम से कोई संबंध नही

यूपी के बुलंदशहर में गौकशी के शक के बाद हिंसा हो गई. गुस्साए लोगों ने सड़क जाम कर दिया. मौके पर पहुंचे पुलिस इंस्पेक्टर पर भी लोग हमलावर हो गए.

लोगों ने इंस्पेक्टर को बुरी तरह से पीट दिया, इससे उनकी की मौत हो गई. वहीँ मीडिया रिपोर्ट में गोली लगने की भी बात सामने आरही है . वही भीड़ ने पत्थरबाजी करते हुए पुलिस चौकी को भी आग के हवाले कर दिया. कई वाहनों को भी जलाए जाने की खबर है. घटना की जांच के लिए एसआईटी गठित कर दी गई है.

साथ ही सोशल मीडिया पर फैलाई जा रहे अफवाह के बाद पुलिस ने ट्वीट कर ये साफ़ कर दिया है की इस मामले से बुलंदशहर इज्तिमे से कोई लेना देना नहीं है

पुलिस ने ट्वीट करते हुए लिखा “कृपया भ्रामक खबर न फैलाएं। इस घटना का इज्तिमा कार्यक्रम से कोई संबंध नही है। इज्तिमा सकुशल सम्पन्न समाप्त हुआ है। उपरोक्त घटना इज्तिमा स्थल से 45-50 किमी थाना स्याना क्षेत्र मे घटित हुई है जिसमे कुछ उपद्रवियो द्वारा घटना कारित की गयी है।”

बता दें की मामला बुलंदशहर के स्याना कोतवाली इलाके का है. यहां के चिगरवाठी चौकी के महाव में गौकशी की अफवाह फैल गई. अफवाह के बाद लोगों ने गौकशी के शक में हंगामा करना शुरू दिया. लोगों ने स्याना रोड जाम कर दिया. घटना की सूचना पर इलाके के इंस्पेक्टर सुबोध कुमार मौके पर पहुंचे. बताया जा रहा है कि उन्होंने लोगों को हटाने की कोशिश की, इस पर लोगों ने इंस्पेक्टर को पकड़ लिया और जमकर पिटाई कर दी. गंभीर रूप से घायल हुए इंस्पेक्टर की मौत हो गई.

 

Top Stories