Wednesday , April 25 2018

गौहत्या के मामले में यूपी पुलिस ने 2 नाबालिग मुस्लिम लड़कियों को जेल भेजा

सांकेतिक तस्वीर

उत्तर प्रदेश- मुजफ्फरनगर  पुलिस ने गौ हत्या से जुड़े एक केस मामले  में 2 नाबालिग मुस्लिम लड़कियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

इनकी  उम्र 12 और एक उम्र 16 साल बताई गई  है। साथ ही पुलिस ने  लड़की की मां और 6 दूसरे लोगों को भी गिरफ्तार किया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक इन दोनों लड़कियों को अदालत में बालिग दिखाया गया और इन्हें जेल भेज दिया गया। जबकि इन्हें जुवेनाइल होम भेजा जाना चाहिए था। रिपोर्ट के मुताबिक जब इन लड़कियों का आधार कार्ड देखा गया तो इनमें से एक का जन्म 2001 और दूसरी का जन्म 2005 में हुआ था। शुक्रवार (29 दिसंबर) को पुलिस ने गोकशी के सिलसिले में खतौली पुलिस ने उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में दो मकानों में छापा मारकर पांच महिलाओं सहित नौ लोगों को गोकशी के आरोप में गिरफ्तार किया गया, जबकि उनके कब्जे से कथित तौर पर तीन क्वींटल गोमांस जब्त किया गया। पुलिस क्षेत्राधिकारी राजीव कुमार सिंह ने बताया कि एक गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने खतोली नगर में छापा मारा और मौके से गोमांस जब्त कर लिया। सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश गोवध रोकथाम अधिनियम, 1955 के तहत एक मामला दर्ज कर सभी नौ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस के मुताबिक 4 आरोपी मौके से भागने में सफल रहे।

लड़कियों का पिता नसीमुद्दीन, जिसे पुलिस आरोपी भी बता रही है, घटना के बाद फरार है। इस मामले में एसएसपी अजय शाहदेव ने खतोली सर्किल ऑफिसर को जांच के आदेश दिये हैं। घटना के तुरंत बाद कई लोग प्रदर्शन करने लगे और सवाल उठाया है कि आखिर पुलिस ने नाबालिगों को क्यों गिरफ्तार किया है? AIMIM नेता शादाब अहमद ने कई लोगों के साथ मुजफ्फरनगर में पुलिस मुख्यालय पर प्रदर्शन किया और पूछा कि आखिर पुलिस ने लड़कियों को क्यों गिरफ्तार किया? उन्हें किस कानून के तहत पुलिस गिरफ्तार कर सकती है।

 

TOPPOPULARRECENT