जानिए, नियुक्त गिए गये पांच राज्यपालों का राजनीतिक सफ़र!

जानिए, नियुक्त गिए गये पांच राज्यपालों का राजनीतिक सफ़र!

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को पांच राज्यों में नए राज्यपाल नियुक्त किए। शाहबानो के मुद्दे परराजीव गांधी कैबिनेट छोड़ने वाले आरिफ मोहम्मद खान को केरल का गवर्नर बनाया गया है।

तमिलनाडु में भाजपा की प्रदेश अध्यक्षडॉ. तमिलिसाई सुंदरराजन (58) को तेलंगाना की जिम्मेदारी दी गई, वे सबसे युवा मौजूदा राज्यपाल होंगी। इसके अलावा कलराज मिश्र को राजस्थान, भगत सिंह कोश्यारीको महाराष्ट्र, बंडारू दत्तात्रेय को हिमाचल प्रदेश भेजा गया है।

आरिफ मोहम्मद खान ने तीन तलाक और अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर मोदी सरकार की तारीफ की थी
58 साल की डॉ. तमिलिसाई सुंदरराजन तमिलनाडु में भाजपा की प्रदेश अध्यक्ष थीं
5 राज्यों में नए राज्यपाल, कलराज मिश्र राजस्थान और भगत सिंह कोश्यारी महाराष्ट्र के गवर्नर होंगे

कांग्रेस में रहे आरिफ मोहम्मद खान लंबे समय से सक्रिय राजनीति से दूर थे। उन्होंने वंदे मातरम् का उर्दू में अनुवाद भी किया था। केंद्र सरकार के तीन तलाक खत्म करने और अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार के फैसलोंकी तारीफ की थी।

भास्कर डॉट कॉम के अनुसार, वे 1984 की राजीव गांधी सरकार में केंद्रीय मंत्री भी रहे। तब उन्होंने शाहबानो केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को संसद में कानून बनाकर पलटे जाने के विरोध में मंत्री के पद से इस्तीफा दे दिया था।

आरिफ मोहम्मद ने कहा, ‘‘मेरे लिए यह सेवा करने का एक मौका है। साथ ही देश के एक ऐसे हिस्से को जानने का शानदार अवसर है, जो देश की सीमा से लगा है। विविधताओं वाले इस देश में मेरा जन्म होना सौभाग्य है। इस देश को देवभूमि कहा जाता है।’’ वहीं, बंडारू दत्तात्रेय ने हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल बनाए जाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को धन्यवाद दिया। दत्तात्रेय ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल के रूप में मुझे नई जिम्मेदारी दी है।

राजस्थान में पिछले 52 साल में 40 राज्यपाल बने, लेकिन इनमें से कोई भी 5 साल का कार्यकाल पूरा नहीं कर पाया। 1967 के बाद वर्तमान राज्यपाल कल्याण सिंह सोमवार को अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा कर रिटायर हो रहे हैं। कल्याण सिंह की जगह कलराज मिश्र को नया गवर्नर नियुक्त किया गया है। केरल में गवर्नर पूर्व चीफ जस्टिस पी. सदाशिवम थे, जिनका हाल ही में कार्यकाल खत्म हुआ है।

कोश्यारी शिक्षक और पत्रकार भी रहे
17 जून 1942 को जन्मे भगत सिंह कोश्यारी उत्तराखंड में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं। वे 2001 से 2002 तक राज्य के मुख्यमंत्री भी रहे। 2002 से 2007 तक विपक्ष के नेता और 2008 से 2014 तक राज्यसभा के सदस्य रहे। कोश्यारी बतौर शिक्षक और पत्रकार भी काम कर चुके हैं। आपातकाल के दौरान उन्हें1977 में जेल भी जाना पड़ा था।

Top Stories