लोकतंत्र नेहरू की देन नहीं, हजारों सालों से कायम है यह परंपरा: PM मोदी

लोकतंत्र नेहरू की देन नहीं,  हजारों सालों से कायम है यह परंपरा: PM मोदी

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा उस पर देश को विभाजित करने का आरोप लगाया, और कहा कि देश में लोकतंत्र स्थापित करने का उसका दावा पूरी तौर से गलत है क्योंकि भारत में हजारों सालों से लोकतांत्रिक परंपरायें हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

कांग्रेस और वामपंथी दलों के शोर-शराबा और हंगामे के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति के भाषण पर लोकसभा में आंदोलन धन्यवाद चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि कांग्रेस ने देश के हित में नहीं बल्कि अपने राजनीतिक हितों को ध्यान में रख कर फैसले किए, जिनका खमियाजा देश आज तक भुगत रहा है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को यह घमंड है कि देश को लोकतंत्र उसी के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने दिया है, जबकि वास्तविकता यह है कि भारत में लोकतंत्र हजारों साल से कायम है। सदन में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की कल के भाषण के संदर्भ में उन्होंने कहा कि कांग्रेस हमें लोकतंत्र का सबक न पढ़ाए। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि कांग्रेस नेताओं को लगता है कि भारत का जन्म 15 अगस्त 1947 को हुई और तभी यहाँ लोकतंत्र आया। उन्होंने कहा कि लिच्छवी साम्राज्य और बौद्ध धर्म के युग में लोकतंत्र की गूंज थी।

Top Stories