Saturday , September 22 2018

हिन्दुओं की लाशों पर सत्ता पाने करने वाले ने VHP को तोड़ा- प्रवीण तोगड़िया

विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया को भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बगावत करने की भारी कीमत चुकानी पड़ी है।

शनिवार को हुए विहिप अध्यक्ष के चुनाव में उनके समर्थित उम्मीदवार की हार हो गई और राष्ट्रीय स्वयं सेवक की पसंद माने जाने वाले विष्णु सदाशिवम् कोकजे विजयी हुए।

इसके बावजूद उनके तेवर नरम नहीं हुए हैं। इस हार के बाद उन्‍होंने कहा कि वह हिंदुओं की आवाज बने रहेंगे और हिंदुओं के साथ मिलकर राम मंदिर का आंदोलन करेंगे। इसमें दुर्गावाहिनी और बजरंग दल की भी वह मदद लेंगे। इसके अलावा उन्‍होंने यह भी घोषणा की कि वह 17 अप्रैल से अहमदाबाद में अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठेंगे।

प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि वह विश्व हिंदू परिषद में थे, अब नहीं हैं। उन्‍हें विहिप छोड़ने के लिए मजबूर किया गया। उन्‍होंने यह भी कहा कि उनके पास रिकॉर्डिंग है। उनसे कहा गया कि या तो राम मंदिर का मुद्दा छोड़ दो या विहिप छोड़ दो।

उन्‍हें सिर्फ विहिप से बाहर करने के लिए चुनाव कराया गया। विहिप की बैठक में करोड़ों हिंदुओं की आवाज को दबाया गया। उन्‍होंने सपने में भी नहीं सोचा था कि 32 साल बाद उन्‍हें इस तरह बाहर किया जाएगा।

तोगड़िया ने यह भी कहा कि हिंदुओं के साथ मिल कर राम मंदिर के लिए उनका आंदोलन जारी रहेगा। इसके लिए वह संसद से कानून बनवाएंगे।

उन्‍हें विश्‍वास है कि विहिप, बजरंग दल और दुर्गा वाहिनी जैसे संगठनों के कार्यकर्ता और देश के तमाम हिंदू मिल कर राम मंदिर जैसे मुद्दों पर आवाज उठाएंगे। उन्होंने आह्वान किया कि सभी लोग ‘सुरक्षित हिंदू, समृद्ध हिंदू’ की ओर बढ़ें।

तोगड़िया ने कहा कि विश्व हिंदू परिषद के लिए अपना सर्वस्‍व दांव पर लगाने वालों को याद करते हुए केंद्र की मोदी सरकार और संगठन के कुछ लोगों पर गंभीर आरोप भी लगाए। उन्‍होंने कहा कि हिंदुओं की लाशों पर सत्ता पाने वाले व्यक्तियों के आगे संगठन के कुछ लोगों का नतमस्तक होना भी दुखदायी है।

अपने प्रत्‍याशी के हार के बाद लगाया मतदाता सूची में हेरफेर का आरोप
शनिवार को गुरुग्राम में विश्‍व हिंदू परिषद के अंतरराष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष के नतीजे आने के बाद प्रवीण तोगड़िया ने कहा कि मतदाता सूची में गड़बड़ी कर उनके प्रत्‍याशी को हराया गया है। उन्‍होंने चुनाव में सरकारी तंत्र के दुरुपयोग का भी आरोप लगाया।

TOPPOPULARRECENT