प्रिंस सलमान और सऊदी अरब के वरिष्ठ अधिकारी जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या का जिम्मेदार- संयुक्त राष्ट्र

प्रिंस सलमान और सऊदी अरब के वरिष्ठ अधिकारी जमाल ख़ाशुक़जी की हत्या का जिम्मेदार- संयुक्त राष्ट्र

सऊदी सरकार के विरोधी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या से जुड़ी संयुक्त राष्ट्र संघ की ओर से बनाई गयी टीम की ओर से जारी की गयी जांच रिपोर्ट में कहा गया है कि साक्ष्यों से पता चलता है कि सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान और अन्य वरिष्ठ सऊदी अधिकारी पत्रकार जमाल ख़ाशुक़्जी की हत्या के ज़िम्मेदार हैं।

रोइटर्ज़ की रिपोर्ट के अनुसार इस हवाले से भेजी गयी 100 पृष्ठों पर आधारित रिपोर्ट पर रियाज़ की ओर से त्वरित रूप से कोई जवाब नहीं दिया गया है किन्तु सऊदी अरब ने पत्रकार की हत्या में क्राउन प्रिंस के लिप्त होने की संभावना को रद्द किया है।

क़ानून से हटकर हत्या से संबंधित संयुक्त राष्ट्र संघ की विशेष रिपोर्टर और जांच टीम की प्रमुख अग्नीस किलामार्ड ने विभिन्न देशों से मांग की है कि सऊदी क्राउन प्रिंस जब तक यह सिद्ध नहीं कर देते कि वह जमाल ख़ाशुक्जी की हत्या के ज़िम्मेदार नहीं हैं, सऊदी अरब पर लगे प्रतिबंधों में विस्तार करते हुए क्राउन प्रिंस और उनकी व्यक्ति संपत्तियों को भी प्रतिबंधों की सूची में शामिल किया जाएगा।

उन्होंने अपनी रिपोर्ट में कहा कि जमाल ख़ाशुक़्जी जानबूझकर, योजनाबद्ध ढंग से क़ानून से हटकर हत्या का शिकार हुए हैं, अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार क़ानून के अंतर्गत जिसका ज़िम्मेदार सऊदी अरब है।

उनका कहना था कि विश्वसनीय प्रमाण मौजूद हैं जो उच्चस्तरीय सऊदी अधिकारी सहित क्राउन प्रिंस के हत्या में शामिल होने से संबंधित जांच की मांग करते हैं।

अग्नीस किलामार्ड ने कहा कि मानवाधिकार की जांच टीम की जांच से पता चलता है कि क्राउन प्रिंस के ज़िम्मेदार होने के ठोस और पक्के प्रमाण मौजूद हैं जो और अधिक जांच की मांग करते हैं।

पार्स टुडे डॉट कॉम के अनुसार, उन्होंने संयुक्त राष्ट्र संघ के महासचिव से अंतर्राष्ट्रीय जांच की मांग की है। अल जज़ीरा टीवी चैनल की रिपोर्ट के अनुसार संयुक्त राष्ट्र संघ की मानवाधिकार परिषद में जांचकर्ता अग्नीस किलामार्ड की ओर से यह रिपोर्ट 26 जून को पेश की जाएगी। ज्ञात रहे कि मानवाधिकार परिषद के 47 सदस्य देशों में सऊदी अरब भी शामिल है।

Top Stories