Sunday , December 17 2017

उमर की हत्या के ख़िलाफ़ सेकुलर और समाजी कार्यकर्ताओं का ‘न्याय मार्च’

जापर: कथित गौरक्षकों के हाथों हत्या किये गये उमर खान के परिजनों ने आज पोस्टमार्टम के बाद सुपुर्दे खाक कर दिया। इस मौके पर बड़ी संख्या में मेव बिरादरी, सामाजिक कार्यकर्ताओं समेत मीडिया से संबंधित लोग शामिल रहे।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

इसके अलावा बड़ी संख्या में दर्जनों संगठनों से संबंधित लोगों, समाजिक कार्यकर्ता और नेताओं ने सरकार विरोधी मार्च निकालने की कोशिश की जिसे पुलिस और फौजी दस्तों ने आगे नहीं बढने दिया। नाराज़ प्रदर्शनकारियों ने बीच सड़क पर इकट्ठा होकर बैठ गये और सरकार की नाकाफी कार्रवाई के खिलाफ नारे बजी की।

मोती डोंगरी पुलिस स्टेशन के नजदीक भीड़ से ख़िताब करते हुए वक्ताओं ने कहा कि हम शांति पसंद लोग हैं और किसी भी तरह वयस्था ककी हालत बिगाड़ना नहीं चाहते। उन्होंने और कहा कि सरकार इस मामले में खामोश तमाशा देख रही है। और पुलिस अपनी मन मर्जी कर रही है। उन्होंने कहा कि मेवात में आज इंसानों का जानवरों की तरह हत्या की जा रही है। सरकार अपना रुख बदले वरना इस तरह मेवात के साथ साथ पूरा राज्य कत्लखाना बन कर रह जायेगा।

TOPPOPULARRECENT