Tuesday , January 23 2018

रोहिंग्या नरसंहार पर कई देशों में उठी आवाज़, पाकिस्तान, मलेशिया, बांग्लादेश में ज़बरदस्त प्रदर्शन

रोहिंग्या मुसलमानों के जनसंहार और उनपर किये जाने वाले अत्याचारों के विरोध में विश्व के कई देशों में विरोध प्रदर्शन किये जा रहे हैं। भारत के अतिरिक्त पाकिस्तान, इन्डोनेशिया, मलेशिया, अफ़ग़ानिस्तान और विश्व के बहुत से देशों के नागरिकों ने प्रदर्शन करके रोहिंग्या मुसलमानों पर किये जा रहे सुनियोजित हमलों की कड़े शब्दों में निंदा की है।

वही रोहिंग्या मुसलमानों पर कार्रवाई करने की निंदा करने के लिए शुक्रवार को हजारों प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान के प्रमुख शहरों की सड़कों पर उतरे। शांतिपूर्ण रैलियों को जामत-ए-इस्लामी (जेआई) संगठन द्वारा आगे बढ़ाया गया था, लेकिन मुख्यधारा के राजनीतिक दल सहित कई अन्य समूह भी इसमें शामिल हुए।

कई प्रदर्शनकारियों ने म्यानमार की नेता सू की, उनकी चुप्पी पर भी लोगों ने विरोध किया। नोबेल शांति पुरस्कार विजेता ने हिंसा की निंदा करने में नाकाम रहने के लिए आलोचना का सामना करना पड़ा।

हालांकि रिपोर्ट के मुताबिक 1,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है, जिसकी वजह से पिछले दो सप्ताह में 270,000 ज्यादातर रोहंगिया नागरिक बांग्लादेश से भाग गए हैं। पाकिस्तान के दक्षिणी बंदरगाह कराची में, जो म्यांमार के बाहर सबसे बड़ी रोहंग्या आबादी में से एक है, 2,000 से अधिक लोगों ने कराची प्रेस क्लब के बाहर प्रदर्शन किया।

TOPPOPULARRECENT