Wednesday , February 21 2018

पद्मावत- उपद्रवियों ने 3 मॉल को बनाया निशाना, गुजरात में तोड़फोड़ और गाड़ियां फूंकी गई

निर्माता-निर्देशक संजय लीला भंसाली की फिल्‍म पद्मावत को लेकर चला आ रहा विवाद में नया मोड़ देखने को मिला है. करणी सेना के समर्थकों ने फिल्‍म को अच्‍छी बताया है लेकिन करणी सेना अपनी मांग पर फिर से अड़ती नजर आ रही है. करणी सेना के समर्थकों नोएडा में फिल्‍म दिखाई गई. इसके बाद मीडिएटर की भूमिका निभा रहे सुदर्शन न्‍यूज के सुरेश चवहांके ने कहा कि फिल्‍म में राजपूतों की आपत्तियों को दूर किया गया है. साथ ही अलाउद्दीन खिलजी के साथ पद्मावती का कोई सीन नहीं है.

उन्‍होंने CNN-News18 से कहा, ‘यह करणी सेना और राजपूतों की जीत है. भंसाली झुका और राजपूत जीता. भंसाली को वे सभी सीन हटाने पड़े जिन पर ऐतराज था. करणी सेना को फिल्‍म देखनी चाहिए.’ हालांकि करणी सेना के महिपाल मकराना ने कहा कि विवाद खत्‍म नहीं हुआ है. भंसाली को ‘चांदी का जूता’ पड़ना चाहिए यानी नुकसाना झेलना होगा.

इधर, गुजरात में अहमदाबाद में मॉल के बाहर हिंसक प्रदर्शन हो रहा है. यहां पर हिमालय मॉल के बाहर वाहन जला दिए गए. साथ ही तोड़फोड़ भी की गई. इस प्रदर्शन के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई है.

बता दें कि करणी सेना के विरोध को देखते हुए निर्माता-निर्देशक संजय लीला भंसाली ने फिल्‍म पद्मावत को देखने के लिए राजपूत समाज को न्‍योता दिया था. मंगलवार को नोएडा में राजपूत समाज के प्रतिनिधियों को फिल्‍म दिखाई गई. इस फिल्‍म को देखने के बाद राजपूत समाज ने फिल्‍म को हरी झंडी दिखा दी.

TOPPOPULARRECENT